अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले वह सियासी लाभ के लिए राम मंदिर मुद्दे को उठा रही है. मंगलवार को उत्तर प्रदेश के शामली जिले में संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने भाजपा की आलोचना की और कहा कि उसने अपने चुनावी वादे पूरे नहीं किए.

पीटीआई की खबर के मुताबिक प्रवीण तोगड़िया ने कहा, ‘भाजपा सरकार के चार वर्ष में राज्य में न तो कोई विकास हुआ और न ही राम मंदिर बना.’ एएचपी के अध्यक्ष ने कहा कि जब चार साल से ज्यादा के कार्यकाल में भाजपा मंदिर नहीं बनवा पाई तो अब चार महीनों में कैसे बनाएगी. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक तोगड़िया ने कहा कि विकास के मुद्दों पर फेल भाजपा अब गाय और हिंदुओं की हत्या करा कर चुनावी माहौल बनाना चाह रही है.

इस दौरान तोगड़िया ने अगले लोकसभा चुनाव में अपने संगठन की तरफ से प्रत्याशियों को उतारने की भी बात कही. उन्होंने कहा, ‘2019 के आम चुनाव में मैं अपने संगठन के लोगों को चुनाव मैदान में उतारूंगा ताकि अयोध्या में राम मंदिर के पुराने सपने को पूरा कर सकूं.’