भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को यकीन है कि भारत या आस्ट्रेलिया मैदान पर बर्ताव के मामले में इस बार सीमा नहीं लांघेंगे, लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह यह नहीं चाहते कि खिलाड़ी जज्बात के बिना मैदान पर उतरें.

आस्ट्रेलिया-भारत की टेस्ट सीरीज से पहले विराट कोहली ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि अतीत में जो हुआ वह फिर होगा. तब दोनों टीमों ने सीमा लांघी थी. लेकिन यह प्रतिस्पर्धी खेल है और आखिर में यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट है. हम यह भी नहीं चाहते कि खिलाड़ी बस आयें, गेंदबाजी करें और चले जाये.’ उन्होंने आगे कहा, ‘कई बार ऐसे मौके होंगे जब बल्लेबाज दबाव में होंगे. उस समय सीमा भले ही पार नहीं हो, लेकिन नोक-झोंक हो सकती है.’

आस्ट्रेलिया टीम पूर्व में मैदान पर अपनी छीटाकशीं को लेकर चर्चित रही है और दुनिया की कई टीमों के साथ उसके खिलाड़ियों के विवाद हो चुके हैं. हालांकि गेंद से छेड़खानी विवाद के बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने टीम के बर्ताव में सुधार पर खासा जोर दिया है.