नई दिल्ली में मंगलवार को आयोजित हुए प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की शादी के रिसेप्शन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए थे. इस मौके की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर कल से शेयर की जा रही हैं. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ऐसी एक तस्वीर अपने इन्स्टाग्राम अकाउंट से शेयर की है. सोशल मीडिया में इन तस्वीरों पर लोगों ने बड़ी ही दिलचस्प चुटकुलेबाजी की है. ऐसा ही एक ट्वीट है, ‘नरेंद्र मोदी प्रियंका चोपड़ा से : कभी-कभी इंडिया आते रहना. प्रियंका : जी, आप भी आते रहिए.’

इन तस्वीरों पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाओं के बीच विरोधियों ने बुलंदशहर हिंसा से लेकर किसान आंदोलन तक के जिक्र के साथ मोदी पर निशाना साधा है. फेसबुक पर सुयश सुप्रभ का तंज है, ‘अच्छी फ़सल होने के बाद ग़रीब किसान के घर में धूमधाम से होने वाली शादी में दूल्हा-दुल्हन के साथ ख़ुशी बांटते धरतीपुत्र मोदी.’

सोशल मीडिया में इन तस्वीरों पर आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

जेट ली (वसूली भाई) | @Vishj05

वह दुर्लभ क्षण जब मोदी जी कैमरे की तरफ देखने से चूक गए.

शाहिद सिद्दीकी | @shahid_siddiqui

वे (नरेंद्र मोदी) ग्लैमर और पब्लिसिटी के लिए कुछ भी करेंगे. पब्लिक के लिए तो बस जुमले हैं.

हप्पूक्रैट | @AreeDada__

जब निकयांका ने नमोएप के लिए पांच रुपये दिए.

हिस्टरी ऑफ इंडिया | @RealHistoryPic

देश के प्रधानमंत्री दिल्ली में प्रदर्शन करने आए दो गरीब किसानों से मिलकर उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य और कर्ज पर राहत का आश्वासन देते हुए. (2018)

ऋषि कुमार सिंह | facebook

पीएम नरेंद्र मोदी को किसी के शादी-ब्याह में शामिल होने, ठहाके लगाने और अपनी पार्टी का प्रचार करने का पूरा हक है. बस वे ये झूठ नहीं बोल सकते कि मैं बगैर छुट्टी के 18 घंटे काम करता हूं.

आशीष प्रदीप | facebook

मैं गर्व से कहता हूं कि हमने प्रधानमंत्री नहीं, प्रधान सेवक चुना है. जब बुलंदशहर में हिंसा हो रही थी, तब मेरे देश का प्रधानमंत्री सबसे आगे खड़े होकर शांति के प्रयास कर रहा था….कहा कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा, ये बात तो कोई भी नेता कह देता है. लेकिन मेरा प्रधान सेवक अलग है. वो मारे गए एसएचओ के घर पहुंचा और घर वालों को ढाढ़स बंधाया, जिसकी ये तस्वीर देखकर मेरी आंखों में आंसू हैं, क्या ही तो प्रधानमंत्री चुना है हमने.