बुलंदशहर हिंसा में मरने वाले पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को मुलाकात की. यह मुलाकात लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर हुई. इस दौरान स्थानीय विधायक सत्यपाल सिंह राठौर और पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह भी मौजूद थे. टाइम्स नाऊ के मुताबिक सुबोध कुमार सिंह के बेटे अभिषेक ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने इस मामले में न्याय का आश्वासन दिया है.’ इससे पहले राज्य सरकार दिवंगत इंस्पेक्टर के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और एक परिजन को सरकारी नौकरी देने का ऐलान भी कर चुकी है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान डीजीपी ने बताया कि मख्यमंत्री ने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने आगे कहा, ‘मुख्यमंत्री ने परिवार वालों को सांत्वना देते हुए सावधानी ने उनकी बातें सुनी. पुलिस फोर्स एक परिवार की तरह है और हम ये सुनिश्चित करेंगे कि पीड़ित परिवार का पूरा ख्याल रखा जाए. मुखयमंत्री ने बच्चों की पढ़ाई के लिये गए ऋण का भी भुगतान करने की घोषणा की है. सुबोध कुमार सिंह के बच्चों में से एक सिविल सेवा की तैयारी कर रहा है. दूसरा कानून की पढ़ाई कर रहा है.’

बीते सोमवार को बुलदंशहर में गोहत्या की खबर के बाद उग्र हुई भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर हमला कर दिया था. उनकी अस्पताल पहुंचाए जाने से पहले ही मौत हो गई. इसी दौरान एक अन्य युवक की भी गोली लगने से मौत हो गई थी. इस मामले में जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है. पुलिस अब तक चार लोगों को गिरफ्तार भी कर चुकी है.