बुलंदशहर हिंसा मामले के मुख्य आरोपित और बजरंग दल के नेता योगेश राज के बाद एक और आरोपित का वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में आरोपित शिखर अग्रवाल खुद को निर्दोष और हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को भ्रष्ट करार दे रहा है.

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में बुलंदशहर हिंसा का आरोपित और स्थानीय भाजपा नेता शिखर अग्रवाल खुद को निर्दोष बताते हुए शहीद पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर इल्जाम लगा रहा है. शिखर अग्रवाल का वीडियो में दावा है कि इंस्पेक्टर ने उसे तथा उसके साथियों को गोकशी का मुकदमा दर्ज कराने से रोका था, जिससे लोगों में नाराजगी फैल गयी. शिखर यह आरोप भी लगा रहा है कि इंस्पेक्टर सुबोध ने उसे और उसके सहयोगियों को जान से मारने की धमकी भी दी थी. शिखर अग्रवाल वीडियो में यह भी कह रहा है कि सुबोध सिंह एक ‘भ्रष्ट’ और मुस्लिम समुदाय की तरफदारी करने वाले पुलिस अफसर थे.

हिंसा के आरोपित शिखर अग्रवाल का यह वीडियो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मारे गए पुलिस अधिकारी के परिजनों के बीच हुई मुलाकात के बाद सामने आया है. इससे पहले, बुलंदशहर कांड के मुख्य अभियुक्त बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज ने भी एक वीडियो जारी करके खुद को बेकसूर बताया था. बीते, तीन दिसंबर को कथित गोकशी को लेकर बुलंदशहर में हिंसा के दौरान गोली लगने से स्याना कोतवाली के इंस्पेक्टर सुबोध सिंह तथा सुमित नामक युवक की मृत्यु हो गयी थी.