तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर राज्य के लोगों से ऐसे वादे करने का आरोप लगाया है जिनकी कोई अहमियत नहीं है. एनडीटीवी के मुताबिक तेलंगाना में करीमनगर जिले के सांसद बी विनोद कुमार ने कहा है, ‘योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को करीमनगर का नाम बदलकर करीपुरम करने का वादा किया था. लेकिन इस जिले का नाम बदले जाने को लेकर कभी किसी ने कोई मांग नहीं की है और न ही यह किसी पार्टी के एजेंडे में ही शामिल रहा है. करीमनगर का नाम बदले जाने की बात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से ही पहली बार सुनने को मिली है.’

इससे पहले बुधवार को तेलंगाना के करीमनगर में अपनी पार्टी का प्रचार करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा था, ‘अगर राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार बनी तो लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुए करीमपुर का नाम बदलकर करीपुरम किया जाएगा.’ इसके अलावा उन्होंने उत्तर प्रदेश में मुगलों से जुड़े इलाहाबाद व फैजाबाद का नाम बदले जाने का हवाला देते हुए यह भी कहा था कि भाजपा सरकार बनने पर हैदराबाद का नाम बदलकर ‘भाग्यनगर’ कर दिया जाएगा.

तेलंगाना में नई विधानसभा के गठन के लिए शुक्रवार को मतदान होना है. इसके बाद इसी महीने की 11 तारीख को मतगणना के बाद चार अन्य राज्यों राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और मिजोरम के साथ ही यहां के नतीजों की भी घोषणा की जाएगी.