‘कांग्रेस का रुख अगर सकारात्मक होता तो नेहरू के समय में ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो गया होता.’  

— उमा भारती, केंद्रीय मंत्री

उमा भारती का यह बयान कांग्रेस पर निशाना साधते हुए आया है. उनका कहना है कि राम मंदिर बनाने से पहले देश में सामंजस्य का माहौल स्थापित करने की जरूरत है और इसके लिए सभी कोशिशें की जा रही हैं. इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से इस मुद्दे पर समर्थन देने की अपील की है. उमा भारती के मुताबिक, ‘राहुल गांधी ने खुद को दत्तात्रेय कौल ब्राह्मण बताया है. ऐसे में जनेऊ की लाज रखने के लिए उन्हें राम मंदिर पर अपना समर्थन देना चाहिए और उनके ऐसा करने से इस मुद्दे पर देश में कोई राजनीति नहीं होगी.’

‘भारतीय जनता पार्टी बहुजन समाज के हितों की उपेक्षा कर रही है.’  

— सावित्री बाई फुले, बहराइच की सांसद व भाजपा की पूर्व नेता

सावित्री बाई फुले का यह बयान गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देते हुए आया है. उनका यह भी कहना है कि भाजपा आज मुसलमान, दलित और पिछड़े वर्ग की अनदेखी करने साथ समाज के शोषित वर्ग को आगे बढ़ाने वाली आरक्षण व्यवस्था को खत्म करने की साजिश रच रही है. सावित्री बाई फुले के मुताबिक भाजपा इस देश को संविधान के बजाय मनुस्मृति से चलाने की कोशिश कर रही है.


‘पाकिस्तान ने सिखों से जुड़े धार्मिक मसले का राजनीतिकरण करने की कोशिश की है.’  

— रवीश कुमार, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता

रवीश कुमार का यह बयान करतारपुर कॉरिडोर को लेकर आया है. उनका कहना है कि भारत को पूरी उम्मीद है कि दो देशों के गुरुद्वारों को जोड़ने वाली इस योजना को लेकर किए वादों को पाकिस्तान पूरा करेगा. उन्होंने आगे कहा कि भारत इस योजना को सिखों की दशकों पुरानी मांग को मूर्त रूप लेने वाली योजना के तौर पर देखता है और इसके ‘राजनीतिकरण’ किए जाने को ‘निराशाजनक’ मानता है. इससे पहले बीते हफ्ते अपने हिस्से वाले इस कॉरिडोर के शिलान्यास के मौके पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस कॉरिडोर को अपने देश के प्रधानमंत्री इमरान खान की गुगली (कूटनीतिक जीत) करार दिया था.


‘क्रिश्चियन मिशेल के भारत आते ही कांग्रेस की नींद उड़ गई है.’  

— संबित पात्रा, भाजपा के प्रवक्ता

संबित पात्रा का यह बयान अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाए जाने और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा उससे शुरू की गई पूछताछ को लेकर आया है. संबित पात्रा का यह भी कहना है कि कांग्रेस के सारे वकील किसी तरह क्रिश्चियन मिशेल को बचाने की कोशिशों में जुट गए हैं. उनके मुताबिक यह काम ‘10 जनपथ’ से मिले आदेश के मद्देनजर किया जा रहा है.


‘स्वार्थ की राजनीति में भाजपा इतना गिर गई है कि अब वह देवी-देवताओं को भी नहीं बख्श रही.’  

— मायावती, बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष

मायावती का यह बयान भगवान हनुमान की जाति पर चली बयानबाजी को लेकर आया है. मायावती के मुताबिक जाति और संप्रदाय की राजनीति करने वालों से सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि इसकी वजह से देश में सामाजिक भेदभाव के और गहराने का खतरा बढ़ गया है. बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान में एक चुनावी रैली के दौरान हनुमान को ‘दलित’ बताया था. इसके बाद कई अन्य नेताओं व चर्चित हस्तियों ने भी इस संबंध में बयान दिए थे.