सात दिसंबर की तारीख इतिहास में दो बड़ी अंतरराष्ट्रीय घटनाओं के साथ दर्ज है. 1941 में आज ही के दिन जापान के बमवर्षक विमानों ने अमेरिका के प्रमुख नौसैनिक ठिकाने पर्ल हार्बर पर अचानक हमला कर दिया था. इस दौरान छह जंगी जहाज, 112 नौकाएं और 164 लड़ाकू विमान नष्ट कर दिए गए. हमले में कुल 2400 से ज़्यादा अमरीकी सैनिक मारे गए थे.

इसी तारीख को इतिहास में दर्ज दूसरी बड़ी घटना 2001 की है, जब अफगानिस्तान में तालिबान ने कंधार का अपना गढ़ छोड़ दिया और इस तरह 61 दिन की लड़ाई के अंत की शुरूआत हुई. अफगानिस्तान के नए अंतरिम प्रशासन के प्रमुख हामिद करजई और तालिबान नेतृत्व के बीच हुए समझौते के बाद कट्टरपंथियों ने अपना यह महत्वपूर्ण गढ़ छोड़ने का फैसला किया.

देश-दुनिया के इतिहास में आज की तारीख में दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1825 : भाप से चलने वाला पहला जहाज ‘इंटरप्राइज’ कलकत्ता (अब कोलकाता) पहुंचा.

1941 : जापानी सेनाओं ने हवाई में अमेरिकी नौसैनिक ठिकाने पर्ल हार्बर पर हमला किया.

1975 : ईस्ट तिमोर के आजादी का ऐलान करने के तत्काल बाद इंडोनेशिया की सेना ने हमला करके उसे अपने कब्जे में ले लिया.

1988 : उत्तर पश्चिम अर्मेनिया में भीषण भूकंप के कारण कई शहर तबाह हो गए.

2001: तालिबान ने कई हफ्ते की अमेरिकी बमबारी के बाद अपना धार्मिक गढ़ कांधार छोड़ने का फैसला किया.

2004 : अफगानिस्तान में हामिद करजई ने पहले निर्वाचित राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली.