उत्तराखंड में फिल्म ‘केदारनाथ’ के प्रदर्शन पर रोक लगा दी गई है. पीटीआई के मुताबिक उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने उत्तराखंड के सात जिलों में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगने की जानकारी दी है. वहीं, न्यूज एजेंसी एएनआई ने उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के हवाले से बताया कि फिल्म पर पूरे राज्य में बैन लगाने की सिफारिश की गई है.

खबर के मुताबिक फिल्म को लेकर सतपाल महाराज ने कहा, ‘हमारी समिति ने अपनी सिफारिश मुख्यमंत्री को भेज दी है और तय किया है कि (फिल्म के मद्देनजर) कानून-व्यवस्था की समीक्षा की जानी चाहिए. हमने जिला मजिस्ट्रेटों से कहा है कि वे शांति व्यवस्था बनाए रखें. सभी ने फैसला किया है कि केदारनाथ पर प्रतिबंध लगना चाहिए.’

गुरुवार को उत्तराखंड सरकार ने फिल्म पर उठ रही आपत्तियों की समीक्षा के लिए पर्यटन मंत्री की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया था. हालांकि नैनीताल स्थित उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने गुरुवार को फिल्म पर बैन लगाने संबंधी याचिका को खारिज कर दिया था. इसके बावजूद फिल्म राज्य के सात जिलों में रिलीज नहीं हो पाई है.

बता दें कि साल 2013 में केदारनाथ में आई प्रलयंकारी बाढ़ की त्रासदी पर बनी यह फिल्म आज रिलीज हो चुकी है. केदारनाथ को लेकर आरोप लगाया गया है कि यह फिल्म लव जिहाद को बढ़ावा देती और हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाती है. कुछ लोगों का आरोप है कि इसमें एक हिंदू श्रद्धालु और एक मुस्लिम पोर्टर के बीच की प्रेम कहानी दिखाई गई है जिससे लव जिहाद को बढ़ावा मिलेगा.