भारत ने गुरूवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में हमास के खिलाफ लाए गए एक अमेरिकी प्रस्ताव से दूरी बना ली. यह प्रस्ताव हमास द्वारा इजराइल की ओर बार-बार रॉकेट दागने और गोलीबारी करने पर उसकी निंदा करने के लिए लाया गया था. इसके जरिए इजरायल में घुसपैठ के लिए गाजा पर सुरंगें बनाने और सैन्य ढांचे का निर्माण करने के हमास के प्रयासों की निंदा भी की जानी थी.

पीटीआई के मुताबिक अमेरिका का यह प्रस्ताव पारित नहीं हो सका क्योंकि यूएन महासभा में इसे जरूरी दो-तिहाई वोट नहीं मिले. इस प्रस्ताव पर 87 देशों ने गाजा में हमास और अन्य आतंकवादी संगठनों की गतिविधियों के पक्ष में वोट डाला, जबकि 58 वोट इसके विरोध में पड़े. भारत सहित 32 देशों ने मतदान प्रक्रिया में हिस्सा नहीं लिया.