जम्मू-कश्मीर में नौ चरणों वाले पंचायत चुनाव के लिए आज आठवें चरण के लिए मतदान चल रहा है. मतदान प्रक्रिया सुबह आठ बजे से दोपहर दो बजे तक चलेगी. मतदान को देखते हुए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई ने राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी शालीन काबरा के हवाले से बताया है कि राज्य सरकार ने मतदान वाले क्षेत्रों में एक दिन का अवकाश घोषित किया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, मतदान के लिए जम्मू-कश्मीर में 2,633 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इनमें 550 कश्मीर घाटी में और 2,083 जम्मू में हैं. चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि कुल 361 मतदान केंद्रों को अतिसंवेदनशील के रूप में चिन्हित किया गया है. इनमें कश्मीर के 171 और जम्मू के 190 मतदान केंद्र शामिल हैं. सरपंचों की 331 और पंचों की 2,007 सीटों के लिए कुल 6,304 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं. जबकि 43 सरपंच और 681 पंच निर्विरोध चुने जा चुके हैं.

द इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि अब तक हुए सात चरणों के चुनाव में पंच की 13,347 सीटों में से 7,387 सीटों पर किसी भी उम्मीदवार ने अपनी दावेदारी पेश नहीं की. वहीं 3,453 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए हैं. इसी तरह से अब तक सरपंच की 1,514 सीटों में से 445 सीटें खाली हैं और 514 सीटों पर केवल एक-एक उम्मीदवार ने दावेदारी पेश की थी.

जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव का पहला चरण 17 नवंबर को संपन्न हुआ था. इसमें 74.1 प्रतिशत मतदान हुआ था. इसके दूसरे चरण में 20 नवंबर को करीब 71.1 प्रतिशत, तीसरे चरण में 24 नवंबर को करीब 75.2 प्रतिशत, चौथे चरण में 27 नवंबर को करीब 71.3 प्रतिशत, पांचवें चरण में 29 नवंबर को करीब 71.1 प्रतिशत, छठे चरण में करीब 73.6 प्रतिशत मतदान और सातवें चरण के लिए के लिए चार दिसंबर को करीब 75.3 प्रतिशत मतदान हुआ था. राज्य में पिछली बार 2011 में पंचायत चुनाव हुए थे.