ओडिशा में खेले जा रहे हॉकी विश्वकप - 2018 के अपने तीसरे मुकाबले में भारत ने कनाडा पर 5-1 से शानदार जीत दर्ज की है. इस जीत के साथ ही भारत ने विश्वकप की इस प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में भी प्रवेश कर लिया है. शनिवार को भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम खेले गए इस मुकाबले में भारत को शुरुआती बढ़त हरमनप्रीत सिंह ने दिलाई. उनकी हॉकी स्टिक से यह गोल पहले क्वार्टर के 12वें मिनट में निकला. इस क्वॉर्टर में कोई और गोल नहीं हो सका और मुकाबले का दूसरा क्वार्टर बिना किसी गोल के छूटा.

भारत की बढ़त को बराबरी पर लाने के लिए तीसरे क्वार्टर में कनाडाई खिलाड़ियों ने अपने जवाबी हमले बढ़ाए. उन्हें इसका फायदा नौवें मिनट में उस वक्त मिला जब फ्लोरिस वान ने भारत पर गोल दागते हुए स्कोर को 1-1 की बराबरी पर ला दिया. कनाडा से आगे निकलने के लिए भारत ने काफी कोशिश की लेकिन इस क्वार्टर कोई और गोल नहीं हुआ.

उधर, चौथे क्वार्टर में भारतीय खिलाड़ियों ने एक बार फिर आक्रामक अंदाज अपनाया और फिर चिंग्लेसाना ने पहले ही मिनट में शानदार गोल करके स्कोर को 2-1 कर दिया. इसके अगले ही मिनट में ललित उपाध्याय के एक और गोल दागकर स्कोर 3-1 पर पहुंचा दिया. दो गोल से आगे होने के बाद भी भारतीय खिलाड़ियों ने अपने आक्रमण जारी रखे और इसी दौरान भारत को एक पैनल्टी कॉर्नर मिला जिसे अमित रोहितदास ने बिना कोई गलती किए गोल में तब्दील किया. चौथे क्वॉर्टर के 12वें मिनट में ललित उपाध्याय ने इस मुकाबले में अपना दूसरा जबकि भारत की तरफ से पांचवां गोल दागा. इस तरह भारत ने यह मैच 5-1 से जीत लिया.

इससे पहले इस विश्वकप प्रतियोगिता के अपने पहले मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से हराया था जबकि बेल्जियम के साथ खेला गया दूसरा मुकाबला 2-2 से बराबरी पर छूटा था.