एडिलेड टेस्ट में भारत ने अपनी पकड़ मजबूत कर ली है. चौथे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने 104 रन के स्कोर पर चार विकेट खो दिए हैं. ऑस्ट्रेलिया को यह मैच जीतने के लिए अभी भी 219 रनों की जरूरत है. इससे पहले मैच के चौथे दिन चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे भारतीय पारी को 151/3 से आगे बढ़ाने उतरे. दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी कर टीम का स्कोर 234 पहुंचाया. पुजारा को 71 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर नेथन लियोन ने एरोन फिंच के हाथों लपकवाया.

इसके बाद रहाणे को छोड़कर कोई भी भारतीय बल्लेबाज ज्यादा देर क्रीज पर नहीं रुक सका और भारतीय टीम दूसरी पारी में 307 पर ऑलआउट हो गयी. अजिंक्य रहाणे (70 रन) के अलावा विकेट कीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने 28 रनों का योगदान दिया. ऑस्ट्रेलिया की ओर से नेथन लियोन ने सर्वाधिक छह विकेट लिए, जबकि मिचेल स्टार्क ने तीन और जोश हेजलबुड ने एक बल्लेबाज को पेवेलियन भेजा.

भारत के द्वारा दिए गए कुल 323 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही. उसने 28 रन के स्कोर पर एरोन फिंच के रूप में अपना पहला विकेट खो दिया. इसके पांच ओवर बाद ही सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस (26) भी चलते बने उन्हें मोहम्मद शमी ने पंत के हाथों कैच कराया. इस समय ऑस्ट्रेलिया के सबसे बेहतर माने-जाने वाले बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा भी कुछ ख़ास नहीं कर सके और अश्विन की गेंद पर रोहित शर्मा के हाथों लपके गए. इसके बाद आए पीटर हैंस्डकॉम्ब मोहम्मद शमी का शिकार बने. इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन का खेल खत्म होने तक 104 रन पर ही अपने चार महत्वपूर्ण विकेट खो दिए. भारत की ओर से अश्विन और शमी ने दो-दो विकेट लिए.