‘विधानसभा चुनाव के जनादेश को हम विनम्रता के साथ स्वीकार करते हैं.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात एक ट्वीट में लिखी है. इसी ट्वीट में उन्होंने आगे लिखा है, ‘मैं राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनता का आभार व्यक्त करता हूं कि इन राज्यों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सेवा का मौका दिया. साथ ही मैं विश्वास दिलाता हूं कि भविष्य में भी भाजपा का हर कार्यकर्ता अथक रूप से राज्य के विकास कार्यों में जुटा रहेगा.’ एक अन्य ट्वीट में हार और जीत को जीवन का हिस्सा बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा है, ‘देश के विकास के लिए भाजपा अब और मेहनत करेगी.’

‘ईवीएम में लगी चिप के साथ थोड़ी सी भी छेड़छाड़ की जाए तो पूरा चुनाव अपने हक में किया जा सकता है.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनाव नतीजों पर चर्चा करते हुए कही है. इसके साथ ही भाजपा पर तंज कसते हुए राहुल गांधी ने यह भी कहा है, ‘हम किसी को देश से मुक्त करने का इरादा नहीं रखते और कांग्रेस ने जैसा प्रदर्शन विधानसभा के इन चुनावों में किया है वैसा ही वह आगामी आम चुनाव के दौरान भी दोहराएगी.’ राहुल गांधी के मुताबिक जिस तरह कांग्रेस और विपक्षी दल आगे बढ़ रहे हैं, भाजपा की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं.


‘सेमीफाइनल माने जा रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों ने अगले साल होने वाले फाइनल मुकाबले का संकेत दे दिया है.’

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात एक ट्वीट में लिखी है. इसी ट्वीट में भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे लिखा है, ‘इस सेमीफाइनल से साबित होता है कि सभी राज्यों में भाजपा कहीं नहीं है जो कि साल 2019 में होने जा रहे फाइनल (लोकसभा चुनाव) का एक लोकतांत्रिक संकेत है.’ इसके साथ ही राजस्थान व छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार को ममता बनर्जी ने लोकतंत्र की जीत भी बताया है.


‘भारत को समस्या मुक्त बनाने के लिए भी भाजपा को अब कुछ प्रयास करने चाहिए.’  

— एचडी देवगौड़ा, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री

एचडी देवगौड़ा ने यह बात भाजपा पर तंज कसते हुए एक ट्वीट में कही है. साथ ही विधानसभा चुनाव के नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने यह भी कहा है, ‘इस चुनाव में जनता ने भाजपा को वोट न देकर देश को अहंकार मुक्त कर दिया है.’ जनता दल (सेक्यूलर) के नेता एचडी देवगौड़ा के मुताबिक, ‘भारत को कांग्रेस और विपक्ष मुक्त करने संबंधी मंशा भाजपा के अहंकार को दिखाती है.’


‘जब एक और एक मिलकर ग्यारह होते हैं तो बड़े-बड़ों की सत्ता नौ दो ग्यारह हो जाती है.’  

— अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष

अखिलेश यादव का यह बयान विधानसभा नतीजों पर आया है. उनके मुताबिक, देश की जनता जाति-संप्रदाय की राजनीति से ऊब चुकी है और अब भाजपा के बहकावे में आने वाले नहीं है.’ इसके साथ ही अखिलेश यादव का यह भी कहना है कि जनविरोधी और विकास विरोधी राजनीति करने वाली भाजपा को अगले साल होने वाले आम चुनाव में भी करारी शिकस्त झेलनी होगी.