विधानसभा चुनाव में कामयाबी हासिल करने के बाद अब मुख्यमंत्री पद को लेकर कांग्रेस के भीतर रस्साकशी को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. मध्य प्रदेश में सबसे आगे कमलनाथ का नाम चल रहा है. हालांकि उनके नाम की अब तक अधिकृत घोषणा नहीं हुई है. बुधवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व को इस बाबत फ़ैसला लेने के लिए अधिकृत कर दिया गया. यही स्थिति राजस्थान में बताई जाती है. वहां सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बीच मुकाबला है. छत्तीसगढ़ में भी अभी स्थिति साफ नहीं है.

गैरकानूनी होने के बाद भी तीन तलाक जारी

एक साथ तीन तलाक को गैरकानूनी घोषित किए जाने के बाद भी इससे जुड़े मामले रुकने के नाम नहीं ले रहे हैं. हिंदुस्तान में छपी खबर की मानें तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद पूरे देश से तीन तलाक के 248 मामले सामने आए हैं. इसकी जानकारी कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बुधवार को लोक सभा में दी. साथ ही, उन्होंने कहा कि मीडिया और अन्य रिपोर्टों के मुताबिक एक जनवरी, 2017 से अब तक यह आंकड़ा 477 तक पहुंच चुका है. कानून मंत्री ने आगे बताया कि मुसलमान महिलाओं के अधिकारों को सुनिश्चित करने के मकसद को लेकर इससे जुड़ा एक विधेयक भी संसद में लाया जा रहा है.

पुरी पीठ के शंकराचार्य ने प्रयागराज कुंभ मेले में शिविर न लगाने का फैसला किया

ओडिशा स्थित पुरी पीठ के शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने प्रयागराज (इलाहाबाद) कुंभ मेले में शिविर न लगाने का फैसला किया है. नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक सरकार और प्रशासन से नाराज शंकराचार्य ने कहा कि वे अपने झूंसी स्थित आश्रम में रुककर ही खास तिथियों पर स्नान करेंगे. निश्चलानंद सरस्वती का कहना था कि ने प्रयागराज का अपमान नहीं कर सकते. उनकी आदित्यनाथ सरकार से शिकायत है कि उन्हें न तो पद के अनुरूप जमीन दी गई और नहीं सुविधाएं. उन्हें ऐसी जगह दी गई जहां मेले की गदंगी बहाई जा रही है.

संत गोपालदास के गायब पर उनकी मां अनशन पर बैठीं

इलाज के दौरान गायब हुए संत गोपालदास की एक हफ्ते बाद भी कुछ खोज खबर नहीं है. इससे नाराज उनकी मां शकुंतला देवी अपने भतीजे नितिन हुड्डा के साथ अनशन पर बैठ गई हैं. अमर उजाला में छपी रिपोर्ट के मुताबिक उनका कहना है कि संत गोपालदास का पता चलने के बाद ही वे अन्न ग्रहण करेंगी. उन्होंने इस घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जाहिर की है. शकुंतला देवी ने गुरुवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिलने की बात कही है. संत गोपालदास गंगा की साफ-सफाई को लेकर सख्त कानून की मांग को लेकर अनशन कर रहे थे.