हॉकी विश्वकप - 2018 की मेजबानी कर रहे भारत की चुनौती अब इस प्रतियोगिता से खत्म हो गई है. गुरुवार को ओडिशा में भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम पर खेले गए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत को नीदरलैंड की टीम ने एक के मुकाबले दो गोल से हराया. भारत की तरफ से मैच का एकमात्र गोल आकाशदीप ने मुकाबले के 12वें मिनट में किया. हालांकि​ भारत की शुरुआती बढ़त बहुत ज्यादा देर तक बरकरार नहीं रह सकी. पहले क्वार्टर के आखिरी मिनट में ही थेरी ब्रिकमैन ने अपनी टीम को बराबरी पर ला दिया.

दूसरे और तीसरे क्वार्टर में दोनों टीमों ने एक-दूसरे पर बढ़त बनाने के लिए कई हमले किए लेकिन किसी को कामयाबी नहीं मिल सकी और स्कोर 1-1 की बराबरी पर ही टिका रहा. चौथे क्वार्टर में एक बार फिर दोनों पक्षों ने आक्रामक खेल दिखाया और 50वें मिनट में नीदरलैंड को पैनल्टी कॉर्नर मिला. बढ़त हासिल करने के लिहाज से हाथ आए इस मौके को बिना किसी चूक के वीरदेन ने गोल में तब्दील करते हुए नीदरलैंड को मुकाबले में 2-1 से आगे कर दिया. एक गोल से पिछड़ने के बाद भारत ने जवाबी हमले और तेज किए. 54वें मिनट में भारत को भी एक पैनल्टी कॉर्नर मिला पर भारतीय टीम इस मौके को भुनाने में कामयाब नहीं हो पाई.

इससे पहले लीग मैचों में भारत ने शानदार खेल दिखाते हुए दक्षिण अफ्रीका को 5-0 और कनाडा को 5-1 से हराया था जबकि बेल्जियम के साथ उसका मुकाबला 2-2 से बराबरी पर छूटा था. उधर, नीदरलैंड की टीम अब सेमीफाइनल मुकाबले में आॅस्ट्रेलिया के साथ भिड़ेगी.