खराब दौर से जूझ रहे भारतीय बल्लेबाज युवराज सिंह आईपीएल खिलाड़ियों की नीलामी में बड़ी मुश्किल से बिके. शुरुअात मेें किसी टीम ने उनमें दिलचस्पी नहीं दिखाई, लेकिन बाद में मुंबई इंडियंस ने उन्हें उनके बेस प्राइस ( एक करोड़) पर खरीद लिया. जबकि तमिलनाडु के अनजान खिलाड़ी वरूण चक्रवर्ती सनसनी बनकर उभरे और उन पर आठ करोड़ 40 लाख की बोली लगी. वेस्टइंडीज के खिलाड़ियों की भी नीलामी में धूम रही और शिमरोन हेटमायेर और कार्लोस ब्रेथवेट को भी मोटी रकम मिली. इंग्लैंड के युवा हरफनमौला खिलाड़ी सैम करन भी सात करोड़ बीस लाख में बिके.

आईपीएल नीलामी के पहले दौर में सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट रहे. उन्हें राजस्थान रॉयल्स ने आठ करोड़ चालीस लाख में खरीदा. जबकि वरुण चक्रवर्ती को किंग्स इलेवन पंजाब ने इसी कीमत पर खरीदा. अभी तक वरूण ने लिस्ट ए के सिर्फ नौ मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 22 विकेट लिये हैं. मुंबई के शिवम दुबे को आरसीबी ने पांच करोड़ रूपये में खरीदा. संयोग से दुबे ने सोमवार को ही रणजी मैच में एक ओवर में पांच छक्के लगाये थे. स्पिनर अक्षर पटेल (पांच करोड़), तेज गेंदबाज मोहित शर्मा (पांच करोड़) और मोहम्मद शमी (चार करोड़ 80 लाख रूपये) भी महंगे बिके. पटेल को दिल्ली ने, शमी को पंजाब ने और मोहित को चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा.

लेकिन कभी टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी रहे युवराज सिंह के लिए आईपीएल 2018 की नीलामी खास अच्छी नहीं रही. नीलामी के दौरान खबरें आती रहीं कि युवराज सिंह को पहले दौर में खरीददार नहीं मिला. हालांकि देर रात युवराज को मुंबई इंडियंस ने एक करोड़ में खरीद लिया. युवराज 2015 आईपीएल में 16 करोड़ में, 2014 में 14 करोड़ में बिके थे और आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ियों में थे.

इसके अलावा रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने हेटमायेर को 4 . 2 करोड़ रूपये में खरीदा. टी20 विश्व कप 2016 के स्टार ब्रेथवेट को केकेआर ने पांच करोड़ रूपये में खरीदा. भारतीय टेस्ट खिलाड़ी हनुमा विहारी को दिल्ली कैपिटल्स ने दो करोड़ रूपये में खरीदा. तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा पिछले सत्र में नहीं बिक सके थे लेकिन इस बार दिल्ली ने एक करोड़ 10 लाख रूपये में खरीदा. वेस्टइंडीज के विकेट कीपर निकोलस पूरन को पंजाब ने चार करोड़ 20 लाख रूपये में खरीदा, जबकि अभी तक उन्होंने टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है.