अपने जमाने की मशहूर अदाकारा सायरा बानो ने ‘भू माफिया’ से निपटने और अपने पति एवं दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के ‘एकमात्र घर’ को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद मांगी है. सायरा बानो ने दिलीप कुमार के आधिकारिक टि्वटर अकाउंट से मंगलवार की रात किए गए एक ट्वीट में कहा है कि इस मामले में मोदी उनकी अंतिम उम्मीद हैं क्योंकि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से बार-बार की फरियाद का कोई नतीजा नहीं निकला.

सायरा बानो ने इस ट्वीट में बिल्डर समीर भोजवानी का नाम लिया है जिन्होंने पाली हिल स्थित उन दो प्लॉटों के स्वामित्व पर कथित झूठा दावा किया है जहां दिलीप कुमार का बंगला बना है.

इस ट्वीट में सायरा बानो ने कहा है, ‘माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी. मैं आपसे मिलने का इंतजार कर रही हूं. मैं मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से मिले बार-बार के आश्वासनों से थक चुकी हूं. भू माफिया समीर भोजवानी से दिलीप साहब के बंगले की रक्षा के लिए आप अंतिम उम्मीद हैं.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को मुंबई में ही थे और वहां हिंदी फिल्म उद्योग जगत के एक प्रतिनिधिमंडल ने उनसे मुलाकात की थी. हालांकि इस दौरान सायरा बानो उनसे नहीं मिल सकी थीं.

मंगलवार को ही पीटीआई से बात करते हुए सायरा बानो का कहना था, ‘मैं यहां प्रधानमंत्री से नहीं मिल पाई क्योंकि वे व्यस्त थे. लेकिन मुझे पता चला है कि उनके कार्यालय ने यहां लोगों से मामले को देखने को कहा है. मैंने इस बारे में ट्वीट किया है. यदि जरूरत हुई तो मैं उनसे दिल्ली में मिलूंगी.’

वहीं सोमवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा था कि वे दिलीप कुमार और उनके परिवार से मुलाकात करेंगे और संपत्ति से जुड़े मामले में उनकी आशंकाएं दूर करेंगे.

दिलीप कुमार का यह बंगला बांद्रा के पाली हिल में स्थित है. इस साल की शुरुआत में सायरा बानो ने पुलिस से संपर्क कर भोजवानी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने भोजवानी के खिलाफ अभिनेता के बंगले पर कब्जे की कथित कोशिश का मामला दर्ज किया था. मामला दर्ज होने के बाद आर्थिक अपराध शाखा ने भोजवानी के बांद्रा स्थित घर पर छापा मारा था जहां से चाकू और छुरे सहित अन्य हथियार बरामद हुए थे. आर्थिक अपराध शाखा ने भोजवानी को अप्रैल में गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन इसके बाद वे जमानत पर रिहा हैं.