छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के पुत्र और सांसद अभिषेक सिंह के पनामा पेपर्स मामले सहित पूर्ववर्ती सरकार में हुए भ्रष्टाचार के सभी मामलों की जांच कराई जाएगी. मुख्यमंत्री के मुताबिक इस संदर्भ में बहुत जल्द आधिकारिक निर्णय लिया जाएगा.

रविवार को पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में भूपेश बघेल ने कहा, ‘जब पनामा पेपर्स में नाम होने की वजह से पाकिस्तान में नवाज शरीफ की कुर्सी जा सकती है तो फिर अभिषेक सिंह की जांच क्यों नहीं हो सकती?’ यह पूछे जाने पर कि क्या अभिषेक सिंह के मामले की जांच के लिए किसी समिति या जांच दल का गठन किया जाएगा तो मुख्यमंत्री का कहना था, ‘इस बारे में जल्द निर्णय होगा और आप लोगों (मीडिया) को सूचित कर दिया जाएगा.’

पिछले साल बहुचर्चित ‘पनामा पेपर्स’ मामले में भाजपा सांसद अभिषेक सिंह का नाम भी सामने आया था. तब अपने खिलाफ लगे आरोपों को खारिज करते हुए अभिषेक ने कहा था कि उनके तथाकथित विदेशी अकाउंट से संबंधित जो विषय उठाए जा रहे हैं, वो पूरी तरह से असत्य एवं राजनीति से प्रेरित हैं. उनका कहना था कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है.