इंडोनेशिया में शनिवार को आई सुनामी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 429 हो गई है और 1,400 से अधिक घायल हुए हैं. इससे पहले रविवार को मृतकों की संख्या 222 बताई गई थी. पीटीआई के मुताबिक इंडोनेशिया की राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता स्तुपो पूर्वो नुग्रोहो ने कहा कि मरने वालों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 429 हो गई. प्रवक्ता ने कम से कम 128 लोगों के लापता होने की भी बात कही है.

बीते शनिवार को इंडोनेशिया में एक ज्वालामुखी फटने से वहां पश्चिमी जावा और दक्षिणी सुमात्रा में आई सुनामी ने तटों को तोड़ते हुए मकानों को तहस-नहस कर दिया. इस आपदा के चलते हजारों लोग बेघर हुए हैं. रिपोर्टों के मुताबिक इंडोनेशिया में हालात बिगड़ते जा रहे हैं. वहां बने शरणार्थी शिविर भूखे और बीमार लोगों से भरे पड़े हैं. पीड़ितों की संख्या इतनी तेजी से बढ़ रही है कि राहत कार्य समय पर होने के बावजूद समस्याएं खत्म नहीं हो रही हैं. साफ पानी और दवाएं बहुत तेजी से खत्म हो रहे हैं.

उधर, एक बुरी खबर यह भी है कि सुंदा के तटीय क्षेत्रों में एक और सुनामी आ सकती है. विशेषज्ञों का कहना है कि क्राकातोआ ज्वालामुखी अभी भी भड़क रहा है, जिसकी वजह से समुद्र तल पर फिर से भूस्खलन की स्थिति पैदा हो सकती है. क्राकातोआ ज्वालामुखी पहले भी बड़ी तबाही मचा चुका है. 1883 में इसमें विस्फोट होने के बाद करीब 36 हजार लोगों की मौत हो गई थी.