महाराष्ट्र में नागपुर के अदालत परिसर में आज एक सहायक अभियोजक (वकील) ने एक सत्र न्यायाधीश को कथित तौर पर थप्पड़ मार दिया. घटना जिला सत्र अदालत की सातवीं मंजिल पर एक लिफ्ट के बाहर हुई.

सदर पुलिस थाने के प्रभारी सुनील बोंडे ने न्यायाधीश की शिकायत का हवाला देते हुए पत्रकारों को बताया कि वरिष्ठ सिविल जज केआर देशपांडे ने आरोप लगाया है कि सहायक लोक अभियोजक डीएम पराते ने अदालत कक्ष के बाहर उन्हें थप्पड़ मारा. पीटीआई-भाषा की खबर के मुताबिक बोंडे ने बताया कि आरोपी संभवत: एक मामले में न्यायाधीश द्वारा दिए गए फैसले से नाराज था. पुलिस घटना की जांच कर रही है. फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

उधर, इस घटना को लेकर जब एजेंसी ने जिला के सरकारी अधिवक्ता नितिन तेलगोटे से संपर्क किया तो उन्होंने इसकी निंदा की. तेलगोटे ने कहा, ‘आरोपी को यह नहीं करना चाहिए था. अगर उनकी कोई शिकायत थी तो उन्हें उसे उचित तरीके से उठाना चाहिए था. समाज वकीलों से ऐसी उम्मीद नहीं करता.’