अमेरिका में जारी शटडाउन यानी संघीय सरकार के ठप चल रहे कामकाज को फिर बहाल कराने के लिए डेमोक्रिटक पार्टी ने एक नई योजना बनाई है. इसके तहत डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद गुरूवार को संसद के निचले सदन यानी प्रतिनिधि सभा में विनियोग विधेयक पर मतदान कराएंगे.

पीटीआई के मुताबिक डेमोक्रेटिक सांसद सामान्य खर्च संबंधी इस विधेयक को पारित कराकर गेंद ट्रंप के पाले में डालना चाहते हैं. अगर इसके पारित होने के बाद डोनाल्ड ट्रंप इस पर दस्तखत करने से इंकार करेंगे तो डेमोक्रेटिक पार्टी को शटडाउन के लिए केवल उन्हें ही दोषी ठहराने का मौका मिल जाएगा. इसके बाद वह कह सकेगी कि सरकारी कार्यालयों के खर्च संबंधी बिल को उसने हरी झंडी दे दी है, लेकिन राष्ट्रपति की जिद की वजह से यह रुका हुआ है.

हालांकि, डेमोक्रेटिक पार्टी के ऐसा करने के बाद भी डोनाल्ड ट्रंप द्वारा विधेयक पर हस्ताक्षर करने की संभावना कम ही मानी जा रही है, क्योंकि इस विधेयक में उनकी इच्छा के मुताबिक अमेरिका और मैक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने के लिए वित्तीय व्यवस्था का कोई जिक्र नहीं किया गया है.

अमेरिका में सरकार को पैसा न मिलने के कारण सरकारी दफ्तरों में कामकाज करीब दो हफ्ते से ठप पड़ा है. डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि यह अवरोध तभी खत्म होगा जब अमेरिकी सांसद मैक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने के लिए आर्थिक मदद को मंजूरी देंगे. उनके मुताबिक जब तक दीवार के बजट को मंजूरी नहीं मिलती तब तक वे सरकार के खर्च संबंधी बजट पर दस्तखत नहीं करेंगे. ट्रंप का कहना है कि देश में अवैध तौर पर प्रवेश करने वालों को रोकने के लिए इस दीवार का बनना जरूरी है.

उधर, निचले सदन में बहुमत वाली डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद दीवार के लिए पांच अरब डॉलर के बजट को अनुमति देने से साफ़ इनकार कर रहे हैं. इनका कहना है कि दीवार बनाने की योजना आव्रजन समस्या को और जटिल बना देगी.