अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्र्रंप ने कुछ देर पहले मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के मुद्दे पर देश को संबोधित किया. ओवल हाउस से पहली बार अमेरिकी नागरिकों को संबोधित करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के लिए धन की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने आंशिक रूप से सरकार के कामकाज के ठप होने के बीच डेमोक्रेट्स पर दबाव बनाने के लिए सुरक्षा एवं मानवीय आधार पर कोष की मांग की.

ट्रंप के इस संबोधन को लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं कि वे मैक्सिको मामले में राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा कर सकते हैं. कुछ दिन पहले खुद ट्रंप ने इसकी चेतावनी दी थी. हालांकि संबोधन में अमेरिकी राष्ट्रपति ने ऐसी कोई घोषणा नहीं की. व्हाइट हाउस ने भी कहा कि सरकार ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है. पीटीआई की खबर के मुताबिक अमेरिकी राष्ट्रपति ने डेमोक्रेट नेताओं से वापस व्हाइट हाउस आने और उनसे मुलाकात करने की अपील करते हुए कहा कि राजनेताओं का कुछ न करना ‘अनैतिक’ है.

ट्रंप के इस संबोधन से कुछ घंटे पहले व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा था, ‘हम सीमा सुरक्षा के लिए पर्याप्त कोष दिए बिना अपने देश को सुरक्षित नहीं रख सकते, जिसमें अवरोधक लगाना और कानून प्रवर्तन के लिए अधिक धन देना भी शामिल है.’ ट्रंप प्रशासन ने मैक्सिको सीमा पर स्टील अवरोधक लगाने के लिए 5.7 अरब डॉलर सहित कई प्राथमिकताओं से निपटने के लिए अतिरिक्त कोष की मांग भी की है.