समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गेस्ट हाउस वाली टिप्पणी के लिए उन पर निशाना साधा है. बुधवार को उन्होंने कहा कि ये टिप्पणी प्रधानमंत्री के डर को दिखाती है. अखिलेश यादव का यह भी कहना था कि यह डर सपा और बसपा के गठबंधन की वजह से है. एक समय धुर विरोधी रही ये दोनों पार्टियां उत्तर प्रदेश में अगले आम चुनाव के लिए हाथ मिला रही हैं.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगरा में एक रैली में कहा था कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए कुछ लोग गेस्ट हाउस कांड को भी भूल गए हैं. उनका इशारा 1995 की उस घटना की तरफ था, जब समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लखनऊ के एक गेस्ट हाउस में मायावती के साथ दुर्व्यवहार की कोशिश की थी.