केरल की एक दलित महिला कार्यकर्ता ने सबरीमला मंदिर में प्रवेश करने का दावा किया है. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक इस महिला का कहना है कि उसने मंगलवार सुबह मंदिर में प्रवेश किया और भगवान अयप्पा के दर्शन किए. महिला ने इस बात की जानकारी एक फेसबुक पोस्ट के जरिए दी है. महिला का नाम पी मंजू बताया जा रहा हैं.

36 साल की पी मंजू ने फेसबुक पर मंदिर में प्रवेश की तस्वीरें और वीडियो भी शेयर की हैं. इन तस्वीरों में दिखाई दे रहा है कि उन्होंने उम्रदराज महिला दिखने के लिए अपने बालों पर सफेद डाई की है, ताकि उन्हें किसी तरह के विरोध का सामना न करना पड़े. महिला ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा है, ‘मैं मंदिर में करीब दो घंटे तक रही. मैंने प्रार्थना के लिए अखिल भारत अयप्पा सेवा संगम के सदस्यों से सहायता मांगी और उन्होंने मेरी पूरी मदद की.’

उधर, केरल पुलिस ने फिलहाल महिला के दावे की पुष्टि नहीं की है. हालांकि उसका कहना है कि महिला द्वारा शेयर की तस्वीरों से लगता है कि उसने प्रदर्शनकारियों को चकमा देकर मंदिर में प्रवेश करते हुए भगवान अय्यपा के दर्शन किए होंगे. बीती दो जनवरी को सबरीमला मंदिर में दो महिलाओं के मंदिर में प्रवेश करने के बाद से केरल में कई जगह हिंसक प्रदर्शन हुए थे. सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल सितंबर में दस से 50 साल की उम्र की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश पर लगी रोक हटा दी थी, लेकिन प्रदर्शनकारियों का कहना है कि महिलाएं मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकतीं.