हरियाणा में जींद विधानसभा सीट के उपचुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है. स्क्रोल डॉट इन के मुताबिक कांग्रेस ने जहां इस सीट से रणदीप सिंह सुरजेवाला को उतारा है तो भाजपा ने इस सीट से विधायक रहे हरि चंद मिड्ढा के बेटे कृष्णा मिड्ढा को अपना उम्मीदवार बनाया है. इस सीट के लिए इसी महीने की 28 तारीख को वोट डाले जाएंगे और नतीजों की घोषणा 31 जनवरी को की जाएगी.

बीते साल अगस्त में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के नेता व जींद विधानसभा के विधायक हरि चंद मिड्ढा का निधन हो गया था. बीते दिनों उनके बेट कृष्णा मिड्ढा भाजपा में शामिल हो गए थे. भाजपा की तरफ से इस सीट के प्रत्याशियों में कृष्णा मिड्ढा का नाम सबसे आगे चल रहा था.

दिलचस्प बात यह है कि कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला पहले से ही हरियाणा की कैथल सीट के विधायक हैं. इसके बावजूद कांग्रेस ने उन्हें इस सीट से चुनाव लड़ाने का फैसला किया है. बताया जाता है कि हैवीवेट प्रत्याशी उतारकर कांग्रेस इस सीट पर किसी भी हाल में जीत दर्ज करना चाहती है. जिससे कि लोकसभा के आगामी चुनाव में वह अपने पक्ष में माहौल तैयार कर सके.

उधर, बीते साल नवंबर में इनेलो से निर्वाचित हुए नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने इस सीट से अपने छोटे भाई दिग्विजय चौटाला को निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर उतारा है. इससे पहले दिसंबर में दुष्यंत चौटाला ने जननायक जनता पार्टी नाम से नई पार्टी बनाने का ऐलान भी किया था. हालांकि चुनाव आयोग में उनकी पार्टी का पंजीकरण फिलहाल शेष है. इस बीच दुष्यंत चौटाला ने कहा है, ‘मुझे पूरा यकीन है कि जींद की जनता दिग्विजय को ही अपना समर्थन देगी.’