उत्तर प्रदेश से बड़ी राजनीतिक खबर आ रही है. बताया जा रहा है कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती और समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव कल एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. पीटीआई ने बसपा महासचिव सतीश मिश्रा और सपा सचिव राजेंद्र चौधरी के हवाले से यह खबर दी है. एजेंसी के मुताबिक दोनों नेताओं ने एक साझा बयान जारी कर जानकारी दी कि मायावती और अखिलेश शनिवार की दोपहर एक साझा संवाददाता सम्मेलन करेंगे.

मायावती और अखिलेश की यह प्रेस कॉन्फ्रेंस इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिहाज से महत्वपूर्ण होने के अलावा ऐतिहासिक भी होगी. यह पहली बार होगा जब प्रदेश के दो दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री पहली बार एक साथ मीडिया के सामने आएंगे. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक यह प्रेस कॉन्फ्रेंस लखनऊ के ताज होटल में होगी. इसके लिए सतीश मिश्रा और राजेंद्र चौधरी ने मीडिया को आमंत्रण भेजा है.

खबरों के मुताबिक इस आमंत्रण में कांग्रेस का नाम नहीं है. बता दें कि इस बात की पहले से संभावना जताई जा रही है कि लोकसभा चुनावों को लेकर उत्तर प्रदेश में केवल सपा और बसपा के बीच गठबंधन होगा. कांग्रेस को इसमें शामिल नहीं किया जाएगा. माना जा रहा है कि शनिवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए जारी बयान में उसका नाम नहीं होने से इस संभावना पर एक तरह से मुहर लग गई है.