नेपाल के सेना प्रमुख जनरल पूर्ण चंद्र थापा आज शुक्रवार को छह दिनों के दौरे पर भारत आ रहे हैं. जनरल थापा ने पिछले साल नौ अगस्त को सेना प्रमुख का कार्यभार संभाला था. उसके बाद यह उनकी पहली विदेश यात्रा है.

ख़बरों के अनुसार जनरल पूर्ण चंद्र थापा अपने भारतीय समकक्ष जनरल बिपिन रावत के निमंत्रण पर भारत आ रहे हैं. यहां वे जनरल रावत के साथ ही रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और रक्षा मंत्रालय व सेना के वरिष्ठ अधिकारियों से भी मुलाकात करेंगे. उन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भारतीय सेना के मानद जनरल की उपाधि भी देंगे. पिछले साल इसी तरह की उपाधि सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को नेपाली राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी ने दी थी, जब वे जुलाई में नेपाल दौरे पर गए थे.

ग़ौरतलब है कि नेपाली प्रधानमंत्रियों की परंपरा की तरह वहां के सेना प्रमुख भी कार्यभार संभालने के बाद अपने पहले विदेश दौरे पर भारत आते रहे हैं. इसके अलावा दोनों देशों द्वारा एक-दूसरे के सेना प्रमुखों को अपने मानद जनरल की उपाधि देने की परंपरा भी 1950 से लगातार चली आ रही है. हालांकि यहीं ध्यान रखने की बात यह भी है कि पिछले साल भारत-नेपाल के संबंधों में चीन की वज़ह से कुछ ख़टास आई थी. तब नेपाल ने भारत में सैन्य अभ्यास के लिए आई अपनी टुकड़ी को भी वापस बुला लिया था.