देश के छह राज्यों के बीच अहम सझौता हुआ है. यह समझौता रेणुकाजी बहुउद्देश्यीय बांध परियोजना से संबंधित है. समझौते पर दस्तख़त करने वाले राज्यों में दिल्ली के अलावा उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड, हरियाणा शामिल हैं.

ख़बरों के मुताबिक दिल्ली में शुक्रवार को छहों राज्यों के मुख्यमंत्रियों की मौज़ूदगी में यह समझौता हुआ. इस मौके पर गंगा पुनरोद्धार, नदी विकास एवं जलसंसाधन मंत्री नितिन गडकरी ख़ास तौर पर मौज़ूद थे. यह परियोजना उन्हीं के मंत्रालय से संबंधित है. इस परियोजना के तहत यमुना नदी पर तीन बांध बनाए जाएंगे. जबकि दो उसकी सहायक नदियों- टोंस और गिरी पर उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में.

यह परियोजना 2008 में बनाई गई थी. इस पर अमल अब शुरू हुआ है. इसके तहत निर्मित होने वाली सिंचाई और पेयजल परियोजनाओं की भी अधिकांश लागत केंद्र सरकार ही वहन कर रही है. इस परियोजना से समझौते पर दस्ख़त करने वाले छहों राज्यों को लाभ होगा.