डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को पत्रकार राम चंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में दोषी करार दिया गया है. खबरों के मुताबिक यह फैसला हरियाणा में पंचकुला की एक विशेष सीबीआई अदालत ने सुनाया. इस मामले में तीन अन्य आरोपितों को भी दोषी ठहराया गया है. इन सभी को अब इसी महीने की 17 तारीख को सजा सुनाई जाएगी.

अक्टूबर 2002 में राम चंद्र छत्रपति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हरियाणा के सिरसा में रहने वाले इस पत्रकार ने अपने अखबार ‘पूरा सच’ में डेरा सच्चा सौदा के खिलाफ कई खबरें प्रकाशित की थीं. साथ ही, उन्होंने सिरसा स्थित डेरा मुख्यालय में महिलाओं के यौन शोषण का मामला भी उठाया था. राम चंद्र छत्रपति की हत्या के बाद राज्य में भारी विरोध-प्रदर्शन हुआ था जिसके बाद 2003 में यह मामला दर्ज किया गया था. इसमें गुरमीत राम रहीम को हत्या का मुख्य साजिशकर्ता बताया गया था. 2006 में इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई थी.

इधर, गुरमीत राम रहीम पहले से ही अपनी दो अनुयायियों के बलात्कार के जुर्म में 20 साल कैद की सजा काट रहा है. फिलहाल उसे रोहतक की सुनारिया जेल में रखा गया है. उस पर डेरा सच्चा सौदा के प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या का आरोप भी है.