भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पंड्या और केएल राहुल को जांच पूरी होने तक टीम से निलंबित कर दिया गया है. बीसीसीआई की प्रशासक समिति के प्रमुख विनोद राय ने दोनों खिलाडि़यों के निलंबन की जानकारी दी. दोनों खिलाड़ियों का निलंबन एक टीवी शो पर महिलाओं के प्रति अपमानजनक टिप्पणी करने को लेकर किया गया है. निलंबन के बाद दोनों खिलाड़ी आस्ट्रेलिया में एक दिवसीय सीरीज नहीं खेल पाएंगे. टीम प्रबंधन ने दोनों को भारत वापस लौटने के निर्देश दिए हैं.

इससे पहले बीसीसीआई की प्रशासक समिति के प्रमुख विनोद राय ने दोनों खिलाड़ियों पर दो मैचों के प्रतिबंध की सिफारिश की थी. लेकिन समिति की दूसरी सदस्य इडुल्जी ने मामले को विधि शाखा के पास भेज दिया था. कानूनी टीम से राय लेने के बाद इडुल्जी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा, ‘यह जरूरी है कि दुर्व्यवहार पर कार्रवाई का फैसला लिए जाने तक दोनों खिलाड़ियों को निलंबित रखा जाए जैसा कि बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी के मामले में किया गया था.’ बीसीसीआई सूत्रों ने कहा कि इन दोनों को औपचारिक जांच शुरू होने से पहले नये सिरे से कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा. जांच बीसीसीआई की अंतरिम समिति करेगी या तदर्थ लोकपाल, इसका फैसला अभी नहीं किया गया है.

इन दोनों क्रिकेटरों की ‘कॉफी विद करण’ कार्यक्रम में की गयी टिप्पिणयों के कारण बवाल मच गया था. पंड्या ने कार्यक्रम के दौरान कई महिलाओं के साथ संबंध होने का दावा किया और यह भी बताया कि वह इस मामले में अपने परिजनों के साथ भी खुलकर बात करते हैं. इन दोनों खिलाड़ियों के भारत लौटने के बाद माना जा रहा है कि इनकी जगह ऋषभ पंत और मनीष पांडे को टीम में शामिल किया जा सकता है. माना जा रहा है कि बीसीसीआई इस विवाद के बाद खिलाड़ियों को मनोरंजन से जुड़़े कार्यक्रमों में भाग लेने से रोक सकता है.