बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से जुड़ी एक जानकारी तेज़ी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इसमें दावा किया गया है कि आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी ने अपने 38 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है. वायरल पोस्ट में बाक़ायदा दो पर्चे दिए गए हैं जिनमें प्रत्याशियों के नाम देखे जा सकते हैं.

इन दोनों पर्चों पर कथित रूप से बसपा नेता आरएस कुशवाहा के हस्ताक्षर भी देखे जा सकते हैं. वहीं, सूची से पहले दी गई जानकारी में लिखा है, ‘माननीय बहन कुमारी मायावती जी के निर्देशानुसार बहुजन समाज पार्टी द्वारा 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में घोषित 38 उम्मीदवारों की सूची जारी की जाती है, जो निम्नानुसार है.’

वायरल हो रही सूची
वायरल हो रही सूची

इसके बाद अगर सूची पर ग़ौर करें तो एक दिलचस्प बात सामने आती है. इसमें जिन प्रत्याशियों के नाम दिए गए हैं, उनमें से 27 सामान्य श्रेणी के हैं, जबकि अनुसूचित जाति के प्रत्याशी केवल 11 हैं. बसपा (सपा से गठबंधन के तहत) प्रदेश की कुल लोकसभा सीटों में से आधे से भी कम पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है. ऐसे में उसका अपने हिस्से की सीटों में से दो-तिहाई सीटें सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को दे देना थोड़ा चौंकाता है. यह बात इस सूची की वास्तविकता पर सवाल खड़ा करती है.

इसके साथ ही थोड़ी सी जांच-पड़ताल पर साफ़ हो जाता है कि सूची फ़र्ज़ी है. आरएस कुशवाहा ने ख़ुद अपने फ़ेसबुक पेज से इस सूची को फ़र्ज़ी बताया है. उन्होंने कहा है कि सूची वाले पर्चे पर किया गया हस्ताक्षर भी उनका नहीं है. उन्होंने आधिकारिक रूप से इस दावे को ख़ारिज किया है. कुशवाहा के बयान को नीचे पढ़ा जा सकता है. वहीं, बसपा ने भी साफ़ किया है कि उसने उम्मीदवारों की कोई सूची जारी नहीं की है.

वायरल सूची को लेकर बसपा नेता आरएस कुशवाहा का बयान
वायरल सूची को लेकर बसपा नेता आरएस कुशवाहा का बयान