कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बीके हरिप्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह को लेकर एक विवादित बयान दिया है. टाइम्स नाउ के मुताबिक उन्होंने कहा है कि अमित शाह को ‘सूअर का जुकाम’ हो गया है. उन्होंने आगे कहा, ‘अगर अमित शाह ने कर्नाटक की जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) व कांग्रेस की गठबंधन सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की तो उन्हें इससे भी गंभीर बीमारी का सामना करना पड़ेगा.’

इधर, बीके हरिप्रसाद के बयान पर केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पलटवार किया है. एक ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘कांग्रेस के सांसद बीके हरिप्रसाद ने जिस तरह का गंदा और बेहूदा बयान अमित शाह जी के स्वास्थ्य के लिए दिया है, वह कांग्रेस के स्तर को दर्शाता है.’ इसी ट्वीट में पीयूष गोयल आगे लिखते हैं कि फ्लू का उपचार तो मौजूद है लेकिन कांग्रेस के नेताओं की ‘मानसिक बीमारी’ का उपचार मुश्किल है.

इससे पहले बुधवार देर शाम स्वाइन फ्लू की शिकायत पर अमित शाह दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज के लिए भर्ती हुए थे. तब उन्होंने एक ट्वीट के जरिये अपनी बीमारी के संबंध में जानकारी दी थी. उसी ट्वीट में उन्होंने आगे लिखा था, ‘मुझे स्वाइन फ्लू का संक्रमण हुआ है जिसका उपचार चल रहा है. ईश्वर की अनुकंपा और आप सभी लोगों के प्यार व शुभकामनाओं से मैं जल्दी ही स्वस्थ हो जाऊंगा.’ फिलहाल अमित शाह का इलाज एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया की देखरेख में किया जा रहा है.