कर्नाटक में सियासी सरगर्मियां जारी हैं. शुक्रवार को कांग्रेस द्वारा बुलाई गई एक अहम बैठक में पार्टी के चार विधायक नहीं आए. इसके बाद पार्टी ने अपने बाकी सभी 76 विधायकों को बेंगुलरु के एक रिसॉर्ट में भेज दिया है. कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया ने कहा कि इन चार विधायकों को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा जाएगा. पूर्व मुख्यमंत्री का ये भी कहना था कि बैठक से गायब रहे इन विधायकों का जवाब आने के बाद पार्टी हाई कमान से चर्चा की जाएगी.

कर्नाटक में सत्ताधारी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन और विपक्षी भाजपा, दोनों एक दूसरे पर अपने विधायकों को लालच देने का आरोप लगा रहे हैं. कांग्रेस का कहना है कि भाजपा उसके विधायकों को खरीद कर राज्य की सरकार गिराना चाहती है. उधर, भाजपा के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येद्दियुरप्पा का कहना है कि कुमारस्वामी उनके विधायकों को मंत्रिपद देने की पेशकश तक कर चुके हैं. इससे पहले भाजपा ने अपने सभी 104 विधायकों को दिल्ली से सटे गुरुग्राम के एक रिसॉर्ट में रखा था.