दिल्ली की एक अदालत ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव की अंतरिम जमानत 28 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी है. अब उसी दिन होने वाली सुनवाई में यह तय किया जाएगा कि लालू प्रसाद यादव को नियमित जमानत दी जा सकती है या नहीं.

ख़बरों के अनुसार लालू प्रसाद यादव की अंतरिम जमानत आईआरसीटीसी (भारतीय रेलवे खान-पान एवं पर्यटन निगम) से जुड़े घोटाले के मामले में बढ़ाई गई है. इस मामले में लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी और पुत्र तेजस्वी भी आरोपित हैं. इन दोनों की अंतरिम जमानत भी अदालत ने बढ़ा दी है.

यह मामला आईआरसीटीसी के दो होटलों से जुड़ा है. सीबीआई (केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) और ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की ओर से दर्ज़ मामले के अनुसार लालू प्रसाद यादव जब रेल मंत्री थे तो उन्होंने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर आईआरसीटीसी के दो होटलों के रखरखाव व प्रबंधन का ठेका एक निजी कंपनी को दिलवाया. उस निजी कंपनी ने इसके बदले में यादव परिवार को ज़मीन आदि देकर उपकृत किया.