केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने एयर इंडिया के पूर्व चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अरविंद जाधव और इस सरकारी एयरलाइंस कंपनी के अन्य पूर्व वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दायर किया है. सीबीआई की तरफ से बुधवार को जानकारी दी गई है कि इन लोगों के खिलाफ महाप्रबंधक स्तर के अधिकारियों की नियुक्ति में नियमों के उल्लंघन को लेकर यह मामला दर्ज किया गया है.

पीटीआई के मुताबिक जाधव के अलावा सीबीआई ने एयरलाइन की तत्कालीन महाप्रबंधक (चिकित्सा सेवाएं) डॉ एलपी नखवा (अब सेवानिवृत्त) तथा तत्कालीन अतिरिक्त महाप्रबंधकों ए कठपालिया, अमिताभ सिंह तथा रोहित भसीन के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है.

सीबीआई का आरोप है कि एयरलाइन के पूर्व प्रमुख जाधव ने एक ‘गैरकानूनी’ पदोन्नति समिति बनाई थी. इस समिति को 2009-10 के दौरान महाप्रबंधक (परिचालन) पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवारों के नामों की सिफारिश करनी थी. इस समिति ने पांच उम्मीदवारों के नामों की सिफारिश की. इनमें कठपालिया और भसीन का भी नाम शामिल था.

सीबीआई की प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि कठपालिया के खिलाफ आपराधिक मामला लंबित था फिर भी उन्हें कथित रूप से सतर्कता मंजूरी दे दी गई. इसके अलावा सिंह और भसीन के खिलाफ भी शिकायतें लंबित थी, जिनका इस पद के लिए चयन किया गया.

सीबीआई ने कहा कि जाधव ने नखवा के साथ साजिश की तथा अपने पद का दुरुपयोग किया ताकि उनको (नखवा को) पदोन्नति समिति का सदस्य बनाया जा सके और बिना उचित प्रक्रिया के पदोन्नति दी जा सके.