कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि वह आंध्र प्रदेश में आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव अपने बूते लड़ेगी और सत्तारूढ़ तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) के साथ कोई गठबंधन नहीं करेगी.

अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के महासचिव और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने कहा, ‘हम सभी 175 विधानसभा सीटों और 25 लोकसभा सीटों पर अकेले लड़ेंगे. टीडीपी के साथ हमारा गठबंधन केवल राष्ट्रीय स्तर पर है, ऐसे में हम राज्य में टीडीपी के साथ गठबंधन नहीं करेंगे.’ अमरावती में पीसीसी पदाधिकारियों की एक बैठक के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में चांडी ने कहा कि चुनाव की तैयारियों के बारे में चर्चा करने के लिए 31 जनवरी को फिर बैठक होगी.

आंध्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अध्यक्ष एन रघुवीर रेड्डी ने भी कहा कि कांग्रेस प्रदेश में अपने दम पर चुनाव लड़ेगी, लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि चुनावी गठबंधन का अंतिम निर्णय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी करेंगे. बैठक के बाद कांग्रेस ने यह घोषणा भी की आंध्र प्रदेश के सभी 13 जिलों में पार्टी फरवरी में बस यात्रा निकालेगी.

तेलंगाना विधानसभा चुनाव टीडीपी और कांग्रेस ने मिलकर लड़ा था और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ विपक्षी एकता के अहम चेहरों में से एक हैं.