प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस महासचिव नियुक्त किए जाने की खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. प्रियंका को आम चुनाव को देखते हुए पूर्वी उत्तर प्रदेश में पार्टी को मजबूत करने की भी जिम्मेदारी सौंपी गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस फैसले पर खुशी और प्रियंका गांधी की काबिलियत पर भरोसा जाहिर किया. वहीं, भाजपा ने इसे राहुल गांधी के विफल होने की प्रतीक के रूप में पेश करने की कोशिश की. बताया जाता है कि प्रियंका फिलहाल विदेश में हैं और फरवरी के पहले हफ्ते में अपनी जिम्मेदारी संभालेंगी.

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर के राज्यों में गणतंत्र दिवस का बहिष्कार

देश के पूर्वोत्तर के राज्यों में नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध कर रहे लोगों ने इस साल गणतंत्र दिवस का बहिष्कार करने का एलान किया है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक बुधवार को एनजीओ समन्वय समिति की बैठक के बाद एक विज्ञप्ति जारी की गई. इसमें कहा गया कि सभी सरकारी कर्मचारी, छात्र और आम लोग 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रमों से दूर रहेंगे. बताया जाता है कि आधा दर्जन से अधिक जन संगठनों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया है. वहीं, इस संशोधन विधेयक के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह के इस्तीफे की मांग भी की है.

सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिकाओं पर पांच दिनों के भीतर सुनवाई का खाका तैयार

सुप्रीम कोर्ट में दायर होने वाली याचिकाओं पर पांच दिनों के भीतर सुनवाई का खाका तैयार कर लिया गया है. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक इस बारे में मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा, ‘मैंने मामलों को सूचीबद्ध करने के लिए नए नियम तैयार कर लिए हैं. मैं मैंशनिंग से निजात पाना चाहता हूं क्योंकि, इसमें बेवजह अदालत का बहुमूल्य वक्त नष्ट होता है.’ इसके आगे उन्होंने कहा कि यदि पांच दिनों में कोई याचिका सुनवाई के लिए सूचीबद्ध न हो तो वकील रजिस्ट्रार के पास इसका उल्लेख कर सकते हैं. साथ ही, सुनवाई की तारीख भी ले सकते हैं.

राहुल गांधी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार न होने पर चुनाव के बाद कांग्रेस को समर्थन : अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने आम चुनाव के बाद जरूरत पड़ने पर कांग्रेस को समर्थन देने की बात कही है. हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि कांग्रेस को उनकी पार्टी का समर्थन उस स्थिति में ही हासिल होगा जब राहुल गांधी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नहीं होंगे. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक इमामों के एक कार्यक्रम में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश को बचाने के लिए भाजपा को हराना होगा. वहीं, पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने कहा, ‘आप लोग (मतदाता) आम आदमी पार्टी को वोट दीजिए, अगर जरूरत पड़ी तो भाजपा के खिलाफ हम चुनाव के बाद केंद्र में कांग्रेस को समर्थन देंगे. मगर मतों का बंटवारा नहीं होना चाहिए.’