भारत विभिन्न धर्मों और विविध धार्मिक मान्यताओं वाला विशाल देश है. यहां पूरे वर्ष धार्मिक उत्सव और त्योहार मनाए जाते हैं. हर धर्म के लोग बड़ी संख्या में परंपरागत तरीकों से अपने ईष्टदेव की आराधना करते हैं. लेकिन ऐसे मौकों पर जरा सी लापरवाही से बड़े हादसे होने का अंदेशा सदैव बना रहता है. 25 जनवरी का दिन ऐसे ही एक हादसे की याद दिलाता है. आज से ठीक 14 साल पहले 25 जनवरी, 2005 को महाराष्ट्र के सतारा जिले में एक पहाड़ी पर स्थित मंढेर देवी के मंदिर में भगदड़ मचने से 300 से ज्यादा श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी और बहुत से लोग घायल हुए थे.

देश-दुनिया के इतिहास में 25 जनवरी के दिन दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1963 : लोकसभा ने भारत-चीन सीमा विवाद हल करने के लिए छह देशों के ‘कोलंबो प्लान’ को स्वीकार किया. हालांकि चीन ने इन प्रस्तावों को पूरी तरह से स्वीकार नहीं किया.

1971: युगांडा की सशस्त्र सेना के प्रमुख इदी अमीन ने सैन्य तख्ता पलट के जरिए राष्ट्रपति मिल्टन ओबोट से सत्ता छीनी. ओबोट 1962 में आजादी के बाद से देश का नेतृत्व कर रहे थे और तख्ता पलट के समय सिंगापुर में राष्ट्रमंडल सम्मेलन में भाग लेने गए थे.

1974 : गुजरात में खाद्य पदार्थों की कमी और इनके दामों में बेतहाशा वृद्धि के विरोध में भड़के दंगों में कई लोगों की मौत. कुछ दिन पूर्व महाराष्ट्र में भी इसी तरह के प्रदर्शन हुए थे.

1980 : मदर टेरेसा को भारत रत्न से सम्मानित किया गया.

1987 : मद्रास (अब चेन्नई) में अवैध तरीके से बनाई गई शराब पीने से 30 लोगों की मौत और कम से कम 40 अन्य ने आंखों की रोशनी गंवाई.

1990 : कोलंबिया का बोइंग 707 जेटलाइनर विमान न्यूयॉर्क में कोव नेक में एक पहाड़ी से टकराया. घटना में 88 लोग जिंदा बचे. बाद में पता चला कि हादसे के समय विमान के चारों इंजन बंद हो चुके थे और उसमें ईंधन लगभग खत्म था.

1994 : पश्चिम बंगाल में आसनसोल के निकट कोयले की एक खदान में शॉर्ट सर्किट से आग लगने के बाद घातक कार्बन मोनोआक्साइड भरने से 55 खनिकों की मौत

1999 : कोलंबिया में शक्तिशाली भूकंप में कम से कम 300 लोगों की मौत और 1000 घायल.

1999 : अन्तरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के छह अधिकारियों को भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद निष्कासित किया गया. इस घटना ने ओलंपिक आंदोलन को बुरी तरह से हिलाकर रख दिया.

2002 : भारत ने मध्यम दूरी तक मार करने वाले परमाणु क्षमता से लैस प्रक्षेपास्त्र का परीक्षण किया.

2009 : श्रीलंका सेना ने लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम से उसका आखिरी गढ़ मल्लाइतिवु छीना.

2010 : बगदाद में विदेशी पत्रकारों और व्यवसायियों के पसंदीदा तीन बड़े होटलों में बम फटने से कम से कम 36 लोगों की मौत.