समाजसेवी नानाजी देशमुख और गायक भूपेन हजारिका के साथ पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न देने के एलान को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में इसकी जानकारी दी गई. बताया जाता है कि यह पहला मौका होगा जब एक ही साल में तीन हस्तियों को यह सम्मान दिया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इसके लिए प्रणब मुखर्जी को बधाई दी है. अपने एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने प्रणब मुखर्जी को एक उत्कृष्ट राजनेता बताया.

वेश्या कहे जाने पर पत्नी द्वारा पति की हत्या गैर-इरादतन : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने किसी पति द्वारा अपनी पत्नी को वेश्या कहने और इसकी वजह से उसकी हत्या को लेकर अहम फैसला सुनाया है. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक यदि पत्नी खुद के वेश्या कहे जाने पर पति की हत्या कर देती है तो इसे गैर-इरादतन माना जाएगा. बताया जाता है कि यह पहली बार है जब शीर्ष अदालत ने इस तरह के शब्दों को गंभीर और अचानक पैदा हुए उकसावे का कारण माना है. इससे पहले अपनी रक्षा में की गई हत्या के मामले में ही माफी दी जाती रही है. न्यायाधीश एमएम शांतनागौडर और न्यायाधीश दिनेश माहेश्वरी की पीठ ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि हमारे समाज में कोई भी महिला पति से अपने लिए वेश्या शब्द नहीं सुन सकती है.

एस्सेल समूह के अध्यक्ष सुभाष चंद्रा ने खुद के वित्तीय संकट में घिरने की बात कही

एस्सेल समूह के अध्यक्ष सुभाष चंद्रा ने शुक्रवार को अपनी कंपनी के वित्तीय संकट में घिरने की बात कही है. जनसत्ता में प्रकाशित खबर के मुताबिक इसके लिए उन्होंने बुनियादी ढांचे के क्षेत्र में दांव लगाने के साथ वीडियोकॉन का डी2एच कारोबार खरीदने के फैसले को जिम्मेदार बताया. सुभाष चंद्रा ने अपने कर्जदाताओं से इसे लेकर खेद जाहिर किया. उन्होंने कहा, ‘कुछ नकारात्मक ताकतें उन्हें जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज की हिस्सेदारी की रणनीतिक बिक्री के जरिए पूंजी जुटाने की कोशिशों से रोक रही है.’ सुभाष चंद्रा ने आगे कहा, ‘मैं बैंकरों, एनबीएफसी और म्यूचुअल फंडों से माफी मांगने के लिए बाध्य हूं. मेरा मानना है कि मैं आप लोगों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया.’ हालांकि, उन्होंने कर्जदाताओं से जी एंटरटेनमेंट की हिस्सेदारी बिकने तक धैर्य बनाए रखने की अपील भी की. उधर, शुक्रवार को इस कंपनी के शेयर में 26 फीसदी की गिरावट देखी गई. वहीं, डिश टीवी के शेयर की कीमत भी 32 फीसदी गिरकर 22.6 रुपये पर आ गई.

दिवालिया कानून की संवैधानिकता पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को दिवालिया कानून की वैधता पर मुहर लगा दी. दैनिक जागरण के मुताबिक शीर्ष अदालत ने इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) की संवैधानिकता कायम रखी है. शीर्ष न्यायपालिका ने इसके खिलाफ दायर सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया. न्यायाधीश आरएफ नरीमन की अध्यक्षता वाली पीठ ने साफ किया है कि इससे संबंधित कानून में संबंधित पक्षों से आशय कारोबार से जुड़ा कोई व्यक्ति ही होना चाहिए. इससे पहले बीती 16 जनवरी को पीठ ने इस पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. वहीं, सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट कर कहा कि अब डिफॉल्टर अधिक दिनों तक बच नहीं सकते.