प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पाकिस्तानी गायक राहत फतेह अली खान, उनके प्रबंधक और भारतीय सहयोगियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. पीटीआई के मुताबिक यह नोटिस 2.61 करोड़ रूपये के बराबर विदेशी मुद्रा का लेन-देनकर विदेशी मुद्रा प्रबंधन कानून (फेमा) के कथित उल्लंघन के कारण जारी किया गया है.

राहत फतेह अली खान से जुड़ा हुआ यह मामला 2011 का है. ईडी के मुताबिक उसे अपनी जांच में पता चला है कि खान ने अपने ग्लोबल इवेंट मैनेजर के तौर पर दिवंगत चित्रेश श्रीवास्तव को शामिल किया था. श्रीवास्तव उनकी ओर से भारत में विभिन्न प्रस्तुतियों के लिए रकम जुटाते थे. ईडी ने कहा है कि इनमें से अधिकतर भुगतान नकदी में हुआ था. इस धनराशि को श्रीवास्तव ने अनाधिकृत स्रोतों के जरिए अवैध तौर पर अमेरिकी डॉलर में बदला और उसे खान को सौंपा था.

2011 में राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने राहत फतेह अली खान और उनके प्रबंधक मारूफ अली खान को इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पकड़ा था. डीआरआई ने उनके पास से अघोषित 1.24 लाख डॉलर और कुछ अन्य सामान कथित रूप से जब्त किया था. इसके बाद जांच एजेंसी ने राहत फतेह अली खान और उनके सहयोगियों के खिलाफ 2014 में फेमा के तहत जांच आरंभ की थी.