आईफोन निर्माता कंपनी एपल ने फेसबुक के रिसर्च एप को बंद कर दिया है. यह एप ट्रैक करता है कि लोग अपने फोन में क्या इस्तेमाल कर रहे हैं और इंटरनेट पर क्या सर्च कर रहे हैं. एपल ने निजता को लेकर अपनी सख्त नीतियों के चलते ऐसा किया है.

तकनीकी से जुड़ी जानकारियां देने वाले एक ब्लॉग टेक क्रंच ने मंगलवार को कहा था कि फेसबुक लोगों को अपना रिसर्च एप डाउनलोड करने और इस्तेमाल करने के लिए करीब 20 डॉलर प्रति महीने का भुगतान करता है. हालांकि, फेसबुक ने कहा कि वह ग्राहकों की अनुमति लेकर ऐसा करता है. मोबाइल एप सुरक्षा शोधकर्ता विल स्ट्रेफैच ने कहा कि फेसबुक का यह दावा करना की उपयोगकर्ताओं को पता है कि किस स्तर का डेटा एकत्र किया जाता है, यह भ्रम पैदा करने जैसा है.

टेकक्रंच ने एक अलग रिपोर्ट में बुधवार को कहा गूगल भी इसी तरह का एक मार्केट-रिसर्च एप ‘स्क्रीनवाइज मीटर’ का एपल मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम पर उपयोग कर रहा था. इसके बारे में पूछे जाने पर गूगल ने कहा कि उसने एप को एपल के उपकरणों से हटा दिया है और अपनी गलती के लिए माफी मांगी है.