घरेलू रसोई गैस के सब्सिडी वाले सिलेंडर (एलपीजी) की कीमत में गुरुवार को 1.46 रुपये की कटौती की गई है. जबकि बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर का दाम 30 रुपये घटा है. सरकारी पेट्रोलियम ईंधन वितरण कंपनियों ने रसोई गैस सिलेंडर के दाम में बीते दो माह में लगातार तीसरी बार कमी की है. इसकी मुख्य वजह इस ईंधन पर कर का भार कम होना है.

पीटीआई के मुताबिक देश की सबसे बड़ी रसोई गैस कंपनी इंडियन ऑयल ने एक बयान में कहा है कि गुरुवार की मध्यरात्रि से दिल्ली में सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम के गैस सिलेंडर की कीमत 493.53 रुपये होगी जो अभी 494.99 रुपये है. इसी तरह बिना सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम के सिलेंडर की कीमत भी 30 रुपये घटकर अब 659 रुपये प्रति सिलेंडर की गई है.

इससे पहले एक दिसंबर को सब्सिडी वाले सिलेंडर पर 6.52 रुपये और एक जनवरी को 5.91 रुपये की कटौती की गई थी. एलपीजी के दामों में कमी की अहम वजह अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत घटना और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की स्थिति में सुधार होना भी है.

एलपीजी ग्राहकों को सिलेंडर बाजार कीमत पर लेने होते हैं. सरकार एक उपभोक्ता को साल में अधिकतम 12 सिलेंडर पर सब्सिडी देती है. सब्सिडी हर महीने अलग-अलग हो सकती है जो विदेशी मुद्रा विनिमय और अंतरराष्ट्रीय बाजार में एलपीजी की कीमतों के औसत के अनुसार तय की जाती है. इस कटौती के बाद सब्सिडी वाले सिलेंडरों के ग्राहकों को उनके खाते में फरवरी में 165.47 रुपये प्रति सिलेंडर की दर से सब्सिडी मिलेगी. जनवरी में यह राशि 194.01 रुपये थी.