दिग्गज क्रिकेटर अर्जुन रणतुंगा ने श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. शुक्रवार को उन्होंने क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों पर हमला बोलते हुए कहा कि बोर्ड में व्याप्त भ्रष्टाचार के कारण आगामी विश्व कप में टीम का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहने वाला है.

पीटीआई के मुताबिक 55 वर्षीय रणतुंगा ने संदेह जताते हुए कहा कि इस साल 30 मई से शुरू हो रहे एकदिवसीय विश्व कप में श्रीलंका की टीम पहले दौर के आगे नहीं जा पायेगी. मीडिया से बातचीत में उनका कहना था, ‘बोर्ड में भ्रष्टाचार व्याप्त है. खिलाड़ियों का मनोबल टूटा हुआ है, खिलाड़ियों में अनुशासनहीनता है...ऐसे में ये कैसा प्रदर्शन करेंगे आप सोच सकते हैं.’

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड की बागडोर अपने हाथ में लेने की कोशिश में लगे रणतुंगा के मुताबिक राष्ट्रीय टीम के खराब प्रदर्शन के लिए केवल क्रिकेट बोर्ड के अधिकारी और कुछ खिलाड़ी जिम्मेदार हैं.

श्रीलंका ने अर्जुन रणतुंगा की कप्तानी में साल 1996 में विश्व कप का खिताब जीता था. वे इस समय देश की मौजूदा सरकार में परिवहन मंत्री की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं.