मोदी सरकार के कार्यकाल में बीते चार बजट मध्यम वर्ग (मिडल क्लास) के लिए अपेक्षाकृत निराशाजनक रहे और इसके चलते सोशल मीडिया पर अकसर उसे निशाना बनाया जाता रहा है. वहीं आज पेश हुए अंतरिम बजट को यहां मिडल क्लास का बजट बताया जा रहा है. इस बजट में कुछ अन्य रियायतें देते हुए वेतनभोगी वर्ग के लिए आयकर छूट की सीमा ढाई से बढ़ाकर पांच लाख कर दी गई है. सोशल मीडिया पर लोगों ने इसका जमकर स्वागत किया है. केतन ने ऐसे लोगों पर चुटकी ली है, ‘पांच लाख पर ख़ुश न हो. अभी खाते में 15 लाख आ जाएंगे तो टैक्स भरते फिरोगे.’

इस बजट से मोदी सरकार ने किसानों को भी साधने की कोशिश की है. इसमें दो हेक्टेयर से कम की जोत वाले किसानों को सालाना छह हजार रुपये देने का प्रस्ताव किया गया है. हालांकि इस पर विरोधियों ने यह दलील देकर सरकार को घेरा है कि वह किसान को सिर्फ पांच सौ रुपये महीने यानी करीब 17 रुपये प्रतिदिन की राहत दे रही है. इसके चलते ट्विटर पर Rs 17 ट्रेंडिंग टॉपिक बना हुआ है.

सरकार ने इस बजट में कुछ प्रस्तावों के साथ असंगठित क्षेत्र के कामगारों को भी खुश करने की कोशिश की है. यही वजह है कि ट्विटर और फेसबुक पर एक बड़े तबके ने इसे लोकलुभावन बजट बताया है. इस हवाले से वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई का ट्वीट है, ‘सबका साथ, सबका वोट. चुनावी साल, चुनावी बजट! वोटरनॉमिक्स 2019.’

आज पेश हुए अंतरिम बजट पर सोशल मीडिया में आई कुछ और दिलचस्प प्रतिक्रियाएं :

योगेंद्र यादव | @_YogendraYadav

बजट 2019 ने किसानों के जख्मों पर नमक रगड़ा है. हर किसान परिवार को सालाना 6000 रुपये दिए जाने के ‘ऐतिहासिक’ प्रस्ताव का मतलब है कि उन्हें प्रतिदिन के हिसाब से 3.30 रुपये मिलेंगें. यह रकम तो मनरेगा या वृद्धावस्था पेंशन से भी कम है!

नीचे से टॉपर | @NeecheSeTopper

बजट कैसा दिख रहा है
बजट असलियत में है कैसा :

हप्पूक्रैट |‏ @AreeDada__

टैक्स में सबसे बड़ी छूट तो वो है जो आपको 15 लाख रुपये पर मिली है, क्योंकि वो रुपये आपको मिले ही नहीं!

गॉडमैन चिकना | @Madan_Chikna

बजट पेश करने के बाद पीयूष गोयल :

रमेश श्रीवत्स | @rameshsrivats

यह किसानों, छोटे कारोबारियों, मध्यवर्ग के वेतनभोगियों और गायों के लिए अच्छा बजट है.

अमर पाल सिंह भल्ला | @SARDARpirate

बजट 2019 में अच्छी खबर सुनने के बाद मध्यवर्ग :

व्यंग्यपुराण |‏ @VyangyaPuraan

अब थोड़ा बहुत पैसा मिडल क्लास की जेब में रहेगा और मिडल क्लास मोदीजी की जेब में रहेगा.

मंजुल | MANJULtoons

मोदी सरकार ने मिडल क्लास को खरीद लिया...प्यार से.