‘केंद्र और राज्यों की सभी संस्थाओं को मोदी सरकार खुद ही नियंत्रित करना चाहती है.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात कोलकाता में अपना धरना खत्म करने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उनकी अगुवाई वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देकर वापस गुजरात लौट जाना चाहिए. क्योंकि वहीं एक व्यक्ति और एक पार्टी की सरकार है.’ इसी मौके पर ममता बनर्जी ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रदेश पुलिस के विवाद पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ‘संविधान व लोकतंत्र की जीत भी बताया.’

‘ममता बनर्जी संघीय मोर्चे की आर्किटेक्ट हैं.’  

— चंद्रबाबू नायडू, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री

चंद्रबाबू नायडू ने यह बात कोलकाता में ‘भारत बचाओ धरने’ के दौरान अपने भाषण में कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘मैं इस धरने में उन 23 राजनीतिक दलों की तरफ आया हूं जिन्होंने 19 जनवरी को विपक्ष की रैली में हिस्सा लिया था.’ इसके साथ ही ममता बनर्जी को उन्होंने विपक्षी दलों का प्रमुख ‘स्तंभ’ भी बताया. चंद्रबाबू नायडू ने आगे कहा, ‘आगामी आम चुनाव के दौरान ममता बनर्जी की पार्टी पश्चिम बंगाल की सभी 42 सीटों पर अपनी जीत दर्ज करेगी.


‘इंदिरा गांधी की नरेंद्र मोदी से तुलना नहीं की जा सकती, ऐसा करना इंदिराजी का अपमान है.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात एक इंटरव्यू में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘मेरी दादी (पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी) प्यार और स्नेह से फैसले करती थीं. उन्होंने लोगों को आपस में जोड़ने वाले काम किए. देश के गरीबों के प्रति उनके मन में सहानुभूति थी.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, ‘नरेंद्र मोदी के फैसले गुस्से और नफरत से प्रेरित होते हैं. वे देश को बांटते हैं. गरीब और कमजोर वर्ग के लिए भी उनके मन में कोई सहानुभूति नहीं है.’


‘मैं भाजपा की राज्य इकाई को भंग कर दूंगा.’

— जॉन वी लूना, भाजपा की मिजोरम इकाई के मुखिया

जॉन वी लूना का यह बयान नागरिकता (संशोधन) विधेयक को लेकर आया है. इसके साथ ही उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व से नागरिकता (संशोधन) विधेयक को रद्द करने का अनुरोध किया. उन्होंने कहा, ‘अगर इस विधेयक को पारित कराने की दिशा में कदम बढ़ाया गया तो मैं पार्टी की राज्य इकाई को भंग कर दूंगा.’ जॉन वी लूना के मुताबिक यह विधेयक पूर्वोत्तर के लोगों के हितों को नुकसान पहुंचा रहा है.


‘विराट कोहली को देखकर मुझे विवियन रिचर्ड्स और इमरान खान की याद आती है.’  

— रवि शास्त्री, भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच

रवि शास्त्री ने यह बात भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली व इस खेल के दो दिग्गज खिलाड़ियों विवियन रिचर्ड्स और इमरान खान से तुलना करते हुए कही है. उन्होंने आगे कहा, ‘मौजूदा समय में मुझे सिर्फ विराट कोहली ही इन दो दिग्गजों के करीब प्रतीत होते हैं. विराट के काम करने का तरीका इन दोनों ही खिलाड़ियों के जैसा है.’ रवि शास्त्री के मुताबिक, ‘विराट कोहली में यह गुण उनके अनुशासन, प्रशिक्षण और अपने त्याग की वजह से हैं.’