मध्य प्रदेश में गोवंश की हत्या के तीन आरोपितों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज किया गया है. इसे प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद गोवंश को लेकर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताया जा रहा है.

पीटीआई के मुताबिक मामला मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के खरकली गांव का है. यहां तीन लोगों पर चोरी के गोवंश की कथित रूप से हत्या करने का आरोप है. मोघट पुलिस थाना प्रभारी मोहन सिंह सिंगोरे ने बताया कि घटना के तीन आरोपितों को सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया. उन्होंने कहा कि इन आरोपितों ने शुक्रवार सुबह खरकली गांव स्थित नर्सरी के पीछे चोरी के गोवंश की कथित हत्या कर दी थी.

मध्य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद गायों को लेकर खासी संवेदनशीलता दिखाई जा रही है. पिछले महीने ही राज्य सरकार ने घोषणा की थी कि गोवंश को आवारा छोड़ना अपराध माना जाएगा. उसने कहा था कि वह इस दिशा में कानून बनाने पर विचार कर रही है.