‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रफाल (घोटाला) दिया लेकिन मैं आपको न्यूनतम आय दूंगा.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात ओडिशा में एक रैली को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि इन दोनों नेताओं ने आम लोगों की जमीन छीनकर उन्हें अपने उद्योगपति दोस्तों को देने का काम किया है. इसके साथ ही राहुल गांधी ने नवीन पटनायक को नरेंद्र मोदी के ‘रिमोट से नियंत्रित होने वाला नेता’ भी बताया.

‘मेरे चाचा, गांधी, लोहिया और जेपी को छोड़कर अब भागवत, मोदी और शाह के चेले बन गए हैं.’  

— तेजस्वी यादव, राष्ट्रीय जनता दल के नेता

तेजस्वी यादव का यह बयान​ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए एक ट्वीट के जरिये आया है. इसी ट्वीट में तेजस्वी यादव ने आगे लिखा, ‘कुर्सी के लालच में संविधान और समाजवाद को भूलकर उन्होंने फासीवाद और संप्रदायवाद को अपना लिया है. संवैधानिक संस्थाओं को खत्म करने में वो (नीतीश कुमार) लगातार भाजपा का सहयोग कर रहे हैं.’


‘रॉबर्ट वॉड्रा के साथ पूरा विपक्ष खड़ा है.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ के मसले पर कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आगामी आम चुनाव के मद्देजनर भाजपा इस तरह के हथकंडे अपना रही है और इसकी चुनाव आयोग से शिकायत की जाएगी. ममता बनर्जी का यह भी कहना था, ‘केंद्र सरकार समझती है कि विपक्षी दल इस मुद्दे पर खामोश रहेंगे. लेकिन ऐसा नहीं है. विपक्षी दल एकजुट हैं और एक साथ मिलकर इसके खिलाफ आवाज उठाएंगे.’ इससे पहले बुधवार को मनी लॉन्डरिंग के एक मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने कारोबारी रॉबर्ट वॉड्रा से पूछताछ की थी.


‘भ्रष्टाचार पर भाजपा की अनोखी व्याख्या है, जो उनके साथ है वह हरिश्चंद्र और जो विरोध करे वह भ्रष्टाचारी है.’  

— शिवानंद तिवारी, राष्ट्रीय जनता दल के नेता

शिवानंद तिवारी ने यह बात पश्चिम बंगाल में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और वहां की पुलिस के बीच हुए विवाद को लेकर कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कोलकाता में हुई इस घटना से ममता बनर्जी का कद बढ़ने वाला है. तिवारी के मुताबिक, ‘केंद्रीय जांच एजेंसियों के बेजा इस्तेमाल का भाजपा को नुकसान उठाना पड़ेगा.’


‘मैं खुशकिस्मत था कि मेरा नाम मीटू में नहीं आया.’  

— शत्रुघ्न सिन्हा, पूर्व अभिनेता और भाजपा सांसद

पूर्व अभिनेता और भाजपा के असंतुष्ट सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने यह बात एक किताब के लोकर्पण समारोह के दौरान मज़ाक करते हुए कही. इसके साथ उनका यह भी कहना था, ‘आज मीटू का दौर है और इसमें यह कहने में हिचक नहीं होनी चाहिए कि हर सफल आदमी के गिरने के पीछे भी औरत ही होती है... मैंने अक्सर ऐसा होते देखा है.’