‘नरेंद्र मोदी एक डरपोक इंसान हैं.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखे बोल बोलते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने प्रधानमंत्री को रफाल विमान सौदे, राष्ट्रीय सुरक्षा और अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों पर दस मिनट की सीधी बहस करने चुनौती भी दी. उन्होंने आगे कहा, ‘अगर ऐसा हुआ तो नरेंद्र मोदी इतनी ही देर में उस बहस से भाग जाएंगे.’ राहुल गांधी का यह भी कहना था, ‘आज नरेंद्र मोदी के चेहरे पर घबराहट दिखती है. क्योंकि वे समझ गए हैं कि देश को बांटकर शासन नहीं किया जा सकता.’

‘कांग्रेस ने देश की सेना की उपेक्षा की है.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात लोकसभा में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘55 साल के कांग्रेस शासन में एक भी रक्षा सौदा बगैर दलाली के नहीं हुआ. आज जब देश की वायुसेना को मजबूत किया जा रहा है तो कांग्रेस के लोग उसमें रोड़ा अटका रहे हैं.’ प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘रफाल सौदे पर कांग्रेस के नेता पूरे आत्मविश्वास के साथ झूठ बोल रहे हैं.’ इसके साथ ही उन्होंने विपक्षी दलों के ‘महागठबंधन’ पर भी निशाना साधा. महागठबंधन को ‘महामिलावट’ बताते हुए मोदी ने कहा, ‘देश मिलावटी सरकार का अनुभव कर चुका है. अब विपक्षी दल तो महा मिलावट की सरकार लाने की कोशिश कर रहे हैं पर देश के लोग ऐसी सरकार नहीं चाहते.’


‘सवर्ण आरक्षण एससी, एसटी और ओबीसी के संवैधानिक अधिकारों पर घातक हमला है.’  

— लालू प्रसाद यादव, राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष

लालू प्रसाद यादव ने यह बात एक ट्वीट के जरिये कही है. इसी ट्वीट में उन्होंने सवर्ण गरीबों के लिए आरक्षण की सुविधा को जाति पर आधारित आरक्षण को खत्म करने की दिशा में पहला कदम भी बताया है. इसके साथ ही लालू प्रसाद यादव ने सवालिया लहजे में यह भी लिखा है, ‘50 फीसदी आरक्षण की सीमा तोड़ी गई है तो सरकार एससी, एसटी और ओबीसी के लिए उनकी जनसंख्या के अनुपात में आरक्षण क्यों नहीं बढ़ा रही.’


‘आगामी आम चुनाव में कांग्रेस के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार बनी तो तीन तलाक विधेयक खत्म कर दिया जाएगा.’  

— सुष्मिता देव, कांग्रेस की महिला इकाई की अध्यक्ष

सुष्मिता देव ने यह बात दिल्ली में अपनी ही पार्टी के एक कार्यक्रम के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने इस विधेयक को ‘मुस्लिम पुरुषों को जेल भेजने की साजिश’ भी बताया. सुष्मिता देव ने आगे कहा, ‘कांग्रेस ने संसद के दोनों सदनों में इस विधेयक पर अपनी असहमति जाहिर की थी. साथ ही विपक्ष के दूसरे दलों की तरह हमारी पार्टी ने भी इसे प्रवर समिति के पास भेजे जाने का समर्थन किया था.’


‘आगामी आम चुनाव के बाद केंद्र की नई सरकार उद्योगपतियों और निवेशकों के लिए दोस्ताना नीतियां लाएगी.’

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात कोलकाता में पांचवें ‘बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट’ के दौरान दिए अपने संबोधन में कही. इस मौके पर उन्होंने भारतीय उद्योगपतियों से स्वदेश लौटने और यहीं निवेश करने’ की अपील भी की. उन्होंने आगे कहा, ‘हम देश को आगे बढ़ता हुआ देखना चाहते हैं, इसलिए हम बातें कम और काम ज्यादा करेंगे.’ इस कार्यक्रम में रिलायंस ग्रुप के अध्यक्ष मुकेश अंबानी सहित कई अन्य दिग्गज उद्योगपतियों ने हिस्सा लिया था.