प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज संसद में अपने वर्तमान कार्यकाल का अंतिम भाषण दिया है और हर बार की तरह सोशल मीडिया पर इसकी जमकर चर्चा है. भाजपा के सदस्यों और समर्थकों के साथ ज्यादातर केंद्रीय मंत्रियों ने अपने-अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए मोदी के भाषण से जुड़ी बातों को शेयर किया है या फिर इस भाषण की वीडियो कि क्लिप शेयर की हैं. इनकी सबसे ज्यादा प्रतिक्रियाएं ट्विटर के ट्रेंडिंग टॉपिक ModiUnstoppable पर आई हैं.

भाजपा समर्थकों के साथ-साथ कई लोगों ने इस भाषण के लिए मोदी की तारीफ की है. वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई का ट्वीट है, ‘संसद या टीवी के प्राइम टाइम जैसा मंच हो तो नरेंद्र मोदी की राजनीतिक आक्रामकता का बहुत कम लोग मुकाबला कर सकते हैं. 2014 में इसी ने मोदी को इतना आकर्षक बनाया था; अब वे चुनौती देने वाले नहीं हैं, बल्कि सत्ता में हैं और इसके बाद भी अपनी सत्ता विरोधी छवि बनाए रखना चाहते हैं.’

मोदी का यह भाषण काफी लंबा था और करीब 100 मिनट तक चला. इसको लेकर सोशल मीडिया पर कई मजेदार प्रतिक्रियाएं आई हैं. भाषण के दौरान फेसबुक पर केतन की प्रतिक्रिया आई थी, ‘सदन में अंतिम भाषण है. ख़तम कब होगा? 16 मई को?’ वहीं अनुग्रह मिश्रा ने चुटकी ली है, ‘और इस तरह संसद में सबसे लंबा भाषण देने वाले पहले पीएम बने नरेंद्र मोदी ... वाह मोदी जी वाह!’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस भाषण पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

गोविंद लोलगे | @GLolge

आज का संसद सत्र कुछ ऐसा था :

निखिल वागले | @waglenikhil

मोदी के भाषण में कुछ भी नया नहीं था. वही पुराने निशाने और वही पुराने शब्दों का आडंबर था. विपक्ष को उनके जाल में नहीं फंसना चाहिए और असली मुद्दे जैसे बेरोजगारी, कृषि संकट पर ध्यान देना चाहिए.

रोशन राय |‏ @RoshanKrRai

मोदी ने आज संसद में कहा कि कांग्रेस के शासन में सेना इतनी कमजोर थी कि सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में सोच भी नहीं सकती थी. मोदी शायद भूल गए कि भारतीय सेना ने कांग्रेस के शासन में ही पाकिस्तान के दो टुकड़े किए थे... कृपया अपनी राजनीति के लिए भारतीय सेना के साहस का अपमान न करें.

बातों के बादशाह |‏ @JumlaWala

बतौर प्रधानमंत्री मोदी का भाषण इतना बोरिंग था कि कुदरत भी रोने लगी और उत्तर भारत में ओले पड़ गए.

रोफल गांधी | @RoflGandhi_

हमारे प्रधानमंत्री आज बिलकुल एक विश्व नेता की तरह बोले, और वह विश्व नेता हैं अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप. ट्रंप ने भी हाल ही में स्टेट ऑफ यूनियन भाषण दिया था. दोनों नेता बिलकुल एक जैसे ही हैं.

स्वाती चतुर्वेदी | @bainjal

मोदी अपनी सरकार को भारत क्यों बताते रहते हैं? विपक्ष और मीडिया उनकी सरकार की वाजिब आलोचना करता है. मोदी भारत नहीं हैं.